गुजरात में बिल्डर पर जानलेवा हमला करने वाला शूटर वाराणसी में गिरफ्तार

Shooter for deadly attack on builder in Gujarat arrested in Varanasi
Shooter for deadly attack on builder in Gujarat arrested in Varanasi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और गुजरात पुलिस ने बिल्डर पर जानलेवा हमला करने वाले कुख्यात माफिया जयेश मूलजी भाई पटेल गिरोह के अन्तर्राज्यीय शातिर शूटर पंकज कुमार को आज वाराणसी से गिरफ्तार कर लिया।

एसटीएफ प्रवक्ता ने यहां यह जनकारी दी। उन्होंने बताया कि गुजरात के बिल्डर टीना उर्फ जयसुख देवराज भाई पर जानलेवा हमला करने वाले कुख्यात माफिया जयेश मूलजी भाई पटेल गिरोह के अन्तर्राज्यीय शातिर शूटर पंकज कुमार को वाराणसी के कैंट इलाके से आज गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार शूटर आजमगढ़ जिले के अतरौलिया इलाके बिलारी गांव का रहने वाला हैद। उन्होंने बताया कि 28 जनवरी को जामनगर के प्रसिद्ध बिल्डर टीना उर्फ जयसुख देवराज भाई पेडड़िया के पर कुख्यात माफिया जयेश मूलजी भाई पटेल द्वारा अपने गैंग के शातिर शूटरों से जानलेवा हमला करवाया गया था।

उन्होंने बताया कि इस घटना का वांछित शातिर शूटर पंकज कुमार फरार चल रहा था और इसकी गिरफ्तारी के लिए जामनगर पुलिस ने एसटीएफ से सम्पर्क किया गया। इस संबंध में उच्चाधिकारीगण ने अभिसूचना संकलन एवं इस बदमाश की गिरफ्तारी के लिए निर्देश दिये गये थे, जिसके क्रम में एसटीएफ की वाराणसी फील्ड इकाई द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की। सूचना संकलन के दौरान आज एसटीएफ को विश्वस्त सूत्रों से जानकारी मिली कि घटना का वांछित शूटर पंकज कुमार सेण्टमेरी स्कूल रोड कैण्टोमेण्ट क्षेत्र में मौजूद है और ट्रेन पकड़ने के लिये कैण्ट रेलवे स्टेशन की तरफ जाने वाला है। इस सूचना पर एसटीएफ के निरीक्षक अमित श्रीवास्तव के नेतृत्व में एक टीम जामनगर पुलिस को बताये गये स्थान पर लेकर पहुंची और फरार शूटर पंकज कुमार को गिरफ्तार कर लिया।

प्रवक्ता ने बताया कि पूछताछ के दौरान गिरफ्तार शूटर ने बताया कि टीना उर्फ जयसुख देवराज भाई पेडडिया जामनगर (गुजरात) के प्रसिद्ध बिल्डर है। जयसुख मूलजी भाई पटेल जामनगर का कुख्यात माफिया है,जिस पर हत्या, रंगदारी आदि के लगभग 50 से भी अधिक अपराधिक मुकदमें दर्ज हैं, जो अपना गिरोह विदेश में बैठकर चलाता है। इसके द्वारा बड़े व्यापारियों से रंगदारी मांगा जाता है और रंगदारी न देने पर अपने शूटरों के द्वारा उनपर हत्या के लिये हमला कराता है।

गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि इसके गिरोह में मुम्बई, हरियाणा, उत्तर प्रदेश व बिहार के कई शार्प शूटर मौजूद हैं, जिनसे यह हमला कराता है। बिल्डर टीना उर्फ जयसुख देवराज भाई पेडडिया की हत्या के लिये इसने दो करोड़ रूपये की सुपारी स्थानीय कुख्यात अपराधी भरत उर्फ कच्चो करमसी भाई चोपड़ा व भीमसी उर्फ भीमो गोवा भाई करमो को दिया था। इन दोनों ने इस घटना को अंजाम देने के लिये जनपद आजमग-सजय़ के शातिर शूटर पंकज कुमार व मनिराम को सुपारी दिया गया था। इसके लिये भीमसी ने मनिराम के खाते में पैसा ट्रान्सफर किया गया था। पिछले साल अक्टूबर को पंकज व मनिराम जामनगर गये थे जहां भीमसी ने इन्हें होटल प्रिन्स रेजीडेन्सी में रूकवाया था, लेकिन उस समय किन्हीं कारणों से घटना कारित नहीं कर पाये। बाद में 28 जनकारी को जामनगर के थाना सिटी ए डिविजन इलाके में बिल्डर टीना उर्फ जयसुख देवराज भाई पेडड़िया पर हत्या करने के लिये जानलेवा हमला किया गया,लेकिन गोली लगने के बाद भी बिल्डर बच गया था।

प्रवक्ता ने बताया कि गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार शूटर को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, वाराणसी के न्यायालय में प्रस्तुत करट्रांजिट रिमाण्ड की कार्यवाही की जा रही है।