VIDEO : माउण्ट आबू BJP पालिकाध्यक्ष के बयानों पर गुस्साए व्यापारी, सौंपा ज्ञापन

Mount abu, suresh ola, suresh thinger
Civilians of mount abu giving memoerandum to sdm mount abu suresh ola against palikadhyaksh suresh thinger

सबगुरु न्यूज-सिरोही/माउण्ट आबू। जिले में रेवदर विधानसभा सीट के दूसरे दावेदार के 2 अप्रेल के बंद के दौरान दिए गए बयान भी अब विवादों की चपेट में आ गए हैं। भाजपा जिला उपाध्यक्ष विजय गोठवाल के बाद माउण्ट आबू पालिकाध्यक्ष सुरेश थिंगर द्वारा बंद के दौरान दिए गए भाषण पर माउण्ट आबू वासियों ने रोष जताते हुए मुख्यमंत्री के नाम उनके खिलाफ ज्ञापन दिया है।

इसी दौरान माउण्ट आबू के ब्राह्मण व राजपूत समाज ने विजय गोठवाल द्वारा फेसबुक पर ब्राह्मण और राजपूत समाज के लिए दी गई टिप्पणी के लिए उनके खिलाफ भी ज्ञापन दिया।

अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण विधेयक संशोधित 1989 पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई गाइडलाइन को लेकर माउण्ट आबू में भी एससी/एसटी वर्ग द्वारा रैली का आयोजन किया गया। इसका नेतृत्व माउण्ट आबू पालिकाध्यक्ष सुरेश थिंगर ने दिया।

इस रैली के दौरान थिंगर द्वारा माउण्ट आबू के व्यापारियों तथा कथित रूप से समाज को बांटने को लेकर दिए गए बयानों पर माउण्ट आबू वासियों ने रोष जताया। इसे लेकर उपखण्ड अधिकारी सुरेश ओला को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया।

जिसमें बताया गया कि भाजपा नेता व माउण्ट आबू पालिकाध्यक्ष सुरेश थिंगर द्वारा भारत बंद के दौरान व्यापारियों द्वारा दुकान बंद नहीं किए जाने एवं उनका समर्थन नहीं करने पर रैली के दौरान नाराजगी जताई गई। इसमें आरोप लगाया कि उन्होंने रैली में अपने भाषण में व्यापारियों पर अभद्र टिप्पणी की गई। उन्होंने कहा कि दुकानदारों के घरों में आटे की कमी आ गई है इसलिए वे एक दिन दुकान बंद नहीं कर रहे हैं।

ज्ञापन में आरोप लगाया गया कि इस दौरान उन्होंने समाज को बांटने वाले शब्द कहे ज्ञापन के अनुसार थिंगर ने रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि अब हम अन्य समाजों के किसी भी कार्यक्रम में भाग नहीं लेंगे और अलग से गणपति बैठाएंगे। ज्ञापन में लोगांे ने सवाल उठाया कि ये सिर्फ एक ही समाज के अध्यक्ष हैं या समस्त आबूरोड के अध्यक्ष हैं। इसमें बताया कि थिंगर ने व्यापारी वर्ग एंच समस्त समाज की भावना से खिलवाड किया है।

इससे समाज में उनके प्रति रोष व्याप्त है। इन लोगों ने थिंगर के खिलाफ सामाजिक व धार्मिक द्वेष फैलाने व सामाजिक सौहार्द बिगाडने का मामला दर्ज करने की मांग की है। इधर, नेता प्रतिपक्ष ने इस प्रकरण में कार्रवाई नहीं होने पर 10 अप्रेल को माउण्ट आबू बंद रखने की चेतावनी भी दी है। थिंगर भी रेवदर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी के रूप में प्रबल दावेदार बताए जाते हैं।

इसी दौरान ब्राह्मण समाज व राजपूत करणी सेना द्वारा भाजपा जिला उपाध्यक्ष द्वारा सोशल मीडिया पर ब्राह्मण व राजपूत समाजों पर की गई टिप्पणी पर रोष जताते हुए उनके खिलाफ भी सामाजिक द्वेष फैलाने का मामला दर्ज करवाने की मांग की गई।

इस दौरान नक्की व्यापार मंडल अध्यक्ष, करणी सेना, अर्बुद ब्राह्मण महासभा अध्यक्ष व कार्यकारिणी, मुख्य बाजार अध्यक्ष, देलवाडा व्यापार मंडल अध्यक्ष, अचलगढ व्यापार मंडल अध्यक्ष समेत माउण्ट आबू के विभिन्न संगठनों व समाजों के प्रतिनिधि शामिल थे। इस संबंध मंे माउण्ट आबू पालिकाध्यक्ष से बात करने के लिए फोन मिलाया तो मोबाइल स्विच आॅफ और नोट रीचेबल बता रहा था।