सिक्किम प्रकृति का वरदान, जानें इसकी खासियत

Sikkim boon of nature know its specialty
Sikkim boon of nature know its specialty

SABGURU NEWS | नई दिल्ली पूर्वोत्तर भाग में स्थित एक पर्वतीय राज्य है। अंगूठे के आकार का यह राज्य पश्चिम में नेपाल, उत्तर तथा पूर्व में चीनी तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र तथा दक्षिण-पूर्व में भूटान से लगा हुआ है। हिन्दू तथा बज्रयान बौद्ध धर्म सिक्किम के प्रमुख धर्म हैं। गंगटोक राजधानी तथा सबसे बड़ा शहर है।

हिमालय की गोद में बसे सिक्किम राज्य को प्रकृति के रहस्यमय सौंदर्य की ज़मीन या फूलों का प्रदेश कहना गलत नहीं होगा। सिक्किम को अपने सुन्दर प्रकृति, बर्फ से ढके पहाड़ों, रंग बिरंगे फूलों से बिछे मैदान, की वजह से इसे ‘जन्नत’ के नाम से पुकारा जाता है।

सिक्किम को भारत के सुन्दर शहरों में से एक माना जाता है और प्रकृति के वरदान से भरी यह जादुई जगह हिमालय पर्वत क्षेत्र में स्थित है। आइये आज आपको इस अज्ञात पहाड़ी वाले राज्य के बारे में बताते है।

यहां के बुद्ध धर्म मंदिरों में फारसी और तिब्बती भाषा की शिक्षा दी जाती है। इसके अलावा यहां पर घूमने के लिए बहुत से गांव, नदियां और पहाड़ियां है जिनकी खूबसूरती देखकर आप दंग रह जाएंगे।

Sikkim boon of nature know its specialty
Sikkim boon of nature know its specialty

गंगटोक
सिक्किम की राजधानी गंगटोक बहुत ही खूबसूरत नजारों से भरपूर शहर है। यहां के प्राचीन मंदिर, महल और मठ आपको सपनों की दुनिया की खूबसूरत सैर कराएंगे। आप यहां पर प्राचीन कलाकृतियों के लिए पुराने बाजार, लाल बाजार या नया बाजार भी घूम सकते हैं। इसके अलावा यहां पर पहाड़ियों की ढाल पर बहुत खूबसूरत नजारा दिखाई देता है।

Yuxom
Yuxom

युक्सोम
इस शहर में आपको कंचनजंघा की चढ़ाई के लिए असानी से बेस कैम्प मिल जाएगा। याक की सवारी करते हुए आप यहां के नजारों का मजा ले सकते है। मई से अगस्त के बीच इस शहर में बहुत ही सुंदर फूल खिलते है और बर्फ गिरने के कारण झील का इलाका और भी खूबसूरत हो जाता है।

Kanchenjunga Hill
Kanchenjunga Hill

कंचनजंगा पहाड़ी
यहां की सुंदरता में चार चांद लगाने के लिए कंचनजंगा पहाड़ी यहीं पर मौजूद है। सूर्य की सुनहरी किरणों में नई-नवेली दुलहन की तरह दिखती है ये चोटी। यहां के हर पल बदलते मोहक दृश्य सुंदरता की नई-नई परिभाषाएं गढ़ते हुए से लगते हैं।सिक्किम की ये पहाड़ी दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची चोटी है। कहा जाता है कि सूरज की किरणे सबसे पहले इस पहाड़ी पर पड़ती है। आप चाहें तो इस पहाड़ी पर ट्रेकिंग भी कर सकते है।