जबरदस्त संघर्ष के बाद सिमोना हालेप बनी क्ले कोर्ट क्वीन

Simona Halep beats sloane stephens to win french open title

पेरिस। विश्व की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सिमोना हालेप ने अमरीका की स्लोएन स्टीफंस के खिलाफ 3-6, 6-4, 6-1 के संघर्षपूर्ण मुकाबले में जीत के साथ शनिवार को फ्रेंच ओपन के रूप में अपने करियर का पहला ग्रैंड स्लेम हासिल कर लिया।

विश्व की नंबर एक खिलाड़ी होने के बावजूद रोमानियाई खिलाड़ी के खाते में एक भी ग्रैंड स्लेम दर्ज नहीं था। लेकिन वर्षाें के अपने ग्रैंड स्लेम सूखे को उन्होंने खराब शुरूआत के बावजूद समाप्त कर दिया। इससे पहले हालेप तीन बार ग्रैंड स्लेम के फाइनल में हारी हैं।

10वीं सीड स्टीफंस ने पहले सेट के चौथे गेम में हालेप की सर्विस ब्रेक करने के बाद 41 मिनट में 6-3 से पहला सेट अपने नाम किया। लेकिन बाकी दोनों सेटों में हालेप ने जबरदस्त वापसी करते हुये मैच और खिताब अपने नाम किया। उपविजेता अमरीकी खिलाड़ी भी अपने इस प्रदर्शन की बदौलत पहली बार डब्ल्यूटीए रैंकिंग में पहली बार शीर्ष पांच में जगह बना लेंगी।

पेरिस में दो बार की उपविजेता हालेप ने जीत के बाद कहा कि मैं लोगों को धन्यवाद करती हूं जिन्होंने मेरा समर्थन किया। आखिरी गेम में तो मैं सांस ही नहीं ले पा रही थी क्योंकि मैं पिछले कई वर्षाें से फाइनल की गलतियों को दोहराना नहीं चाहती थी। मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि मैं विजेता बनी हूं।

यूएस ओपन चैंपियन स्टीफंस पहले सेट में तो काफी आक्रामक दिखीं। लेकिन बाकी सेटों में वह वापसी नहीं कर सकीं। दूसरा सेट काफी संघर्षपूर्ण रहा लेकिन सेट प्वांइट पर स्टीफंस बैकहैंड पर गलती कर बैठीं।

वर्ष 2017 में लात्विया की येलेना ओस्तापेंको से फाइनल में हारीं हालेप ने फाइनल सेट में 3-0 की बढ़त के बाद स्कोर 5-0 की और मैच प्वांइट पर बेहतरीन स्मैश लगाते हुए खिताब अपने नाम कर लिया।