कोरोना पीडित कनिका कपूर ने स्वीकारा, अलग नहीं रह गलती की

लखनऊ। बेबी डाॅल और एनएच 10 के छिल गए नयना जैसे गाने से चर्चित हुई हिंदी फिल्मों की गायिका कनिका कपूर ने कोरोना वायरस में चपेट में आने के बाद स्वीकार किया कि उसे लंदन से आने के बाद खुद को अलग थलग रखना चाहिए था।

कनिका लखनऊ की रहने वाली हैं जबकि उनके तीन बच्चे लंदन में पढ़ते हैं। संक्रमित होने के बाद कनिका को शुक्रवार को किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय के अलग वार्ड में दाखिल कराया गया है।

कनिका पिछले 9 मार्च को लंदन से लौटी थी और मुम्बई के छत्रपति शिवाजी एयरपोर्ट पर उनकी स्क्रीनिंग भी की गई थी। वह 15 मार्च को पूर्व सांसद अकबर अहमद डंपी की पार्टी में शामिल हुई, जिसमें एक सौ से ज्यादा लोग मौजूद थे। उन्होंने लोगों से हाथ भी मिलाया और सेल्फी भी ली। इस पार्टी में भारतीय जनता पार्टी के सांसद दुष्यंत सिंह भी थे। सिंह राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र हैं। कनिका के कोराना की चपेट में आने की जानकारी के बाद उन्होंने भी खुद को अलग थलग कर लिया है।

इस बीच वे अन्य पार्टियों में भी शामिल हुईं। तीन पार्टियों में वह करीब चार सौ लोगों के सम्पर्क में आईं। उन्होंने कहा कि मुम्बई एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग के बाद उन्हें सब कुछ सामान्य लगा क्योंकि उस वक्त इस वायरस का खतरा इतना ज्यादा नहीं था।

उन्होंने कहा कि गलती हुई मुझे खुद को कम से कम 14 दिन तक अलग थलग रहना था लेेकिन मैं लोगों से मिलती रही और सम्पर्क में आती रही।

लंदन से लौटी सिंगर कनिका कपूर को कोरोना, पार्टी में हाथ मिलाने वाले खौफजदा