आदिवासियों ने माउंट आबू की नक्की झील में किया पितृ तर्पण

माउंट आबू। राजस्थान में माउंट आबू की नक्की झील में आदिवासियों ने सोमवार को पितृ तर्पण समेत अन्य धार्मिक रस्में पूरी की।

मकरोड़ा, कृष्णगंज, वेलांगरी, अचपुरा, मांडवाड़ा, ईसरा, निचलागढ़, उपलागढ़, उपलाखेजड़ा, आवल आदि ग्रामीण अंचलों से आए आदिवासियों ने ऐतिहासिक नक्की झील पहुंचकर विधिविधानपूर्वक पितृ तर्पण की रस्में अदा की। गरासिया समुदाय के लोगों ने परंपरानुसार नक्की झील में स्नान कर पूरे वर्ष दिवंगत हुए अपने परिजनों की आत्माओं की शान्ति के लिए परंपरा एवं श्रद्धापूर्वक पितृ तर्पण की रस्म अदा की।

साल भर से संभालकर रखी अस्थियों का विसर्जन किया। चमकीले रंगबिरंगे ठेठ आदिवासी परिधानों में सजसंवर कर आये गरासियों ने नक्की झील की परिक्रमा करने के बाद विधिविधानपूर्वक अस्थियां विसर्जित कर धर्म-कर्म के कार्य संपन्न किए। ईष्टदेव की पूजा-अर्चना करते भोग लगाया, प्रसादी वितरित कर मनौती मांगी।