सिरोही कोविड हॉस्पिटल में 14वें दिन हारा कोरोना वायरस

सिरोही में पहले कोरोना केस को रिकवर होने पर पुष्प गुच्छ देकर विदा करते विधायक संयम लोढ़ा, सीएमएचओ और पीएमओ।
सिरोही में पहले कोरोना केस को रिकवर होने पर पुष्प गुच्छ देकर विदा करते विधायक संयम लोढ़ा, सीएमएचओ और पीएमओ।

सिरोही। जिला कोविड हॉस्पिटल से पहला कोरोना पॉजिटिव केस को रिकवर करके आज डिस्चार्ज कर दिया गया है। ये वही केस है जो सबसे पहले रामपुरा के नवाखेड़ा गांव में कोरोना पॉजिटिव मिला था।

सिरोही जैसे पिछड़े और छोटे जिले के लिए ये एक बड़ी जीत है जो लोगों में ये विश्वास पैदा करेगी कि कोरोना हार सकता है, बशर्ते कि सावधानी और आत्मविश्वास रखें। उनमे नए विश्वास भी जगाएगी कि सिरोही में ही कोरोना का उपचार हो सकता है।

वैसे कोरोना पॉजिटिव दो केस को उच्चस्तरीय उपचार के लिए एहतियातन जोधपुर भी रेफर किया गया है, इन दोनों केस में एक को ट्यूबर क्लोसिस और दूसरे के साथ उम्र का फेक्टर था। जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद ने बताया कि सीमित संसाधनों के बीच ये कामयाबी चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। इससे लोगों में विश्वास जगेगा कि सावधानी और आत्मविश्वास से कोरोना भागेगा।

कोरोना चिकित्सालय से जब पहले कोरोना रिकवर केस को डिसचार्ज किया गया तो स्थानीय विधायक संयम लोढ़ा ने उसे पुष्प गुच्छ भेंट किया। इस दौरान मौजूद सीएमएचओ डॉ राजेश कुमार, पीएमओ डॉ बीएल ग्रोवर तथा चिकित्सा व मेडिकल स्टाफ को बधाई दी।