सीतापुर में छेड़छाड़ का विरोध करने पर जलाई गई किशोरी की मृत्यु

सीतापुर। यूपी के सीतापुर शहर कोतवाली क्षेत्र में कथित छेड़छाड़ के विरोध में एक युवक द्वारा घर में घुसकर जलाई गई किशोरी की उपचार के दौरान लखनऊ के सिविल अस्पताल में मृत्यु हो गई।

पुलिस सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि सीतापुर शहर कोतवाली इलाके के एक गांव की रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी के परिजनों का आरोप था कि गोलू नामक युवक ने मंगलवार को दुष्कर्म का प्रयास किया था। असफल रहने पर गोलू उस किशोरी को धमकी देकर भाग गया था।

किशोरी के पिता की तहरीर के अनुसार गोलू बुधवार शाम मिट्टी का तेल लेकर घर घुस गया और उसकी बेटी पर तेल उड़ेल कर आग लगाने के बाद फरार हो गया था। किशोरी के चिल्लाने पर पड़ोसियों ने वहां पहुंचकर आग बुझाई और उसे जिला चिकित्सालय भेजा गया। हालत गंभीर होने पर चिकित्सकों ने किशोरी को लखनऊ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल में भर्ती कराया है।

उन्होंने बताया कि किशोरी कर उपचार के दौरान रात करीब दस बजे मृत्यु हो गई। उन्हाेंने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

इस बीच लखनऊ जोन के अपर पुलिस महानिदेशक राजीव कृष्ण ने कल सिविल अस्पताल पहुंचकर पीड़िता का हाल जाना और घटना के बारे में जानकारी की थी। उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपी की सरगर्मी से तलाश कर रही है।

दूसरी ओर ग्रामीणों का कहना है कि किशोरी और गोलू के बीच काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था और दो दिन पहले दोनों को परिजनों ने पकड़ लिया था। बाद में किशोरी ने खुद ही आग लगाई। परिजनों के दबाव में किशोरी ने गोलू पर आग लगाने का आरोप लगाया था।