आंध्र प्रदेश में जिलेटिन छड़ों से लदे वाहन में विस्फोट से 10 की मौत

कडपा। आंध्र प्रदेश में कडपा जिले के ममिलापल्ली गांव में शनिवार को जिलेटिन से भरे वाहन से जिलेटिन छड़ों को उतारते समय हुए विस्फोट से 10 खदान मजदूर कर्मियों की मौत हो गई।

पुलिस ने कहा कि चूना पत्थर की खदान में विस्फोट के लिए बडवेल से भारी मात्रा में लाई गई जिलेटिन की छड़ों को वाहन से उतारा जा रहा था, तभी अचानक विस्फोट हो गया। घटना में वाहन में सवार 10 खदान मजदूरों की मौत हो गई तथा दो अन्य गंभीर रूप से घायल हुए हैं। विस्फोट इतना भीषण था कि मजदूरों के शव के अंग कुछ सौ मीटर दूरी तक बिखर गए।

जिस वाहन में जिलेटिन की छड़ें लाई गई थी विस्फोट के कारण वह लोहे के टुकड़े में बदल गया। पुलिस अधीक्षक अम्बुराजन और अन्य अधिकारी ने घटनास्थल का दौरा किया। मृतकों की पहचान के प्रयास किये जा रहे हैं। पुलिस ने कहा कि खदान का मालिक नागेन्द्र रेड्डी का पता नहीं चला है।

विस्फोट में जिन मजदूराें की मौत हुई उनकी पहचान प्रसाद (35), सुब्बा रेड्डी (40), बाला गंगुलू (35), ईश्वरैय्या (45), गांगी रेड्डी (50), लक्ष्मा रेड्डी (60) और अब्दुल (30) के रूप में हुई है।

आंध्र प्रदेश के राज्यपाल विस्व भूषण हरिचंदन ने खदान दुर्घटना में 10 मजदूरों की मौत और कई अन्य लोगों के घायल होने पर दुख और शोक व्यक्त किया। राज्यपाल ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि विस्फोट में घायलों का बेहतर उपचार कराया जाए और शोक संतप्त परिवार के परिजनों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त की है।

इस बीच, मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी ने विस्फोट में मारे गए मजदूरों के प्रति शोक व्यक्त किया और अधिकारियों से घटना के बारे में पूछताछ की और शोक संतप्त परिवारों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की।

पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कडप्पा जिले के मामिलपल्ले गांव में चूना पत्थर की खदान में विस्फोट में कई निर्दोष श्रमिकों की मौत पर दुख व्यक्त किया और और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।