सौर ऊर्जा से चलने वाला फ्रिज बना

Solar-powered refrigerator made
Solar-powered refrigerator made

नई दिल्ली। भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, पूसा ने किसानों के फलों और सब्जियों के नष्ट होने के कारण होने वाले नुकसान की रोकथाम के लिए सौर ऊर्जा से चलने वाले फ्रिज का विकास कर लिया है ।

संस्थान के निदेशक अशोक कुमार सिंह ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि साैर ऊर्जा से चलने वाले फ्रिज की तकनीक का विकास अभियंत्रण विभाग ने किया है। पूसा फार्म सन फ्रिज के रखरखाव का खर्च शून्य है और इसमें दो टन फलों और सब्जियों को रखा जा सकता है।

डॉ. सिंह ने कहा कि किसान दिन में सौर ऊर्जा का संग्रह करेंगे और बाजार में नहीं बिके अपने उत्पादों को रात में फ्रिज में रख सकेंगे। यह फ्रिज 10 फुट लम्बा, 10 फुट चौड़ा और 10 फुट ऊंचा है। संस्थान ने आज ही अपनी प्रौद्योगिकी हस्तान्तरण का समझौता जयपुर की एक निजी कम्पनी से किया। इसका मूल्य साढ़े चार लाख से पांच लाख रुपये के बीच होगा।

उन्होंने बताया कि देश में उत्पादन के बाद करीब 30 से 40 प्रतिशत फल और सब्जियां नष्ट हो जाती हैं। इसके अलावा करीब 10 प्रतिशत अनाज भी नष्ट हो जाते हैं जिससे 80 हजार करोड़ रुपये का नुकसान होता है। इसके साथ ही पर्यावरण को भी नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि अधिक गर्मी वाले स्थानों के लिए तथा बिजली की समस्या वाले जगहों के लिए यह फ्रिज उपयुक्त है। कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर कल यहां किसान मेले में इसका लोकार्पण करेंगे।