वाजपेयी राष्ट्रीय जीवन के विराट व्यक्तित्व थे : सोनिया गांधी

sonia gandhi condoles mourn atal bihari Vajpayee
sonia gandhi condoles mourn atal bihari Vajpayee

नई दिल्ली। कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह हमारे राष्ट्रीय जीवन के विराट व्यक्तित्व थे, उनके निधन से शून्य पैदा हो गया है।

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने शोक संदेश में कहा कि मुझे वाजपेयी के निधन से गहरा दुख पहुंचा है। वाजपेयी हमारे राजनीतिक जीवन के विराट व्यक्तित्व थे। वह जीवनभर लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए संघर्ष करते रहे। उन्होंंने एक सांसद, एक कैबिनेट मंत्री और देश के प्रधानमंत्री के रूप में अपने कार्यों से अपनी प्रतिबद्धता का प्रदर्शन किया।

गांधी ने कहा कि वह मंत्र मुग्ध करने वाले वक्ता, महान द्रष्टा, राष्ट्र हित में सर्वोच्च देशभक्त थे लेकिन इन सभी से बढ़कर वह उदार और विशाल हृदयी थे। अन्य राजनीतिक दलों, विदेशी सरकारों, गठबंधन के सहयोगियों और अपने राजनीतिक सहयोगियों से हुए उनके सभी संवादों से यह स्पष्ट होता है। वह सभी के साथ सम्मानपूर्वक और शालीनता के साथ व्यवहार करते थे।

उन्होंने कहा कि उनके खुशमिजाज व्यक्तित्व और मित्रतापूर्ण व्यवहार के कारण जीवन के प्रत्येक क्षेत्र और सभी राजनीतिक दलों में उनके मित्र और प्रशंसक थे। उनके निधन से बड़ा शुन्य पैदा हो गया है। मैं लाखों-करोड़ों भारतीयों के साथ मिलकर उनकी दिवंगत आत्मा के लिए प्रार्थना करती हूं।

सोनिया गांधी ने गुरुवार रात वाजपेयी के निवास 6, कृष्ण मेनन मार्ग पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। वाजपेयी का शाम को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे।

वाजपेयी के निधन से लता मंगेशकर दुखी, आडवानी को खलेगी कमी

वाजपेयी के निधन पर चीन, पाकिस्तान ने जताया शोक

वाजपेयी को राजनेताओं की श्रद्धांजलि : देश ने खोया महान सपूत