पत्नी ने प्रेमी और उसकी प्रेमिका से मिलकर करा दी पति की हत्या

सोनीपत। हरियाणा में सोनीपत के गांव गुहणा में अवैध संबंधों के चलते महिला की ओर से अपने प्रेमी और उसकी महिला मित्र की मदद से अपने पति की ही हत्या कराने का मामला सामने आया है। तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

गांव गुहणा निवासी संदीप (26) का शव रविवार को उसके खेत में मिला था। बाद में पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया तो उसमें गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई। पुलिस ने संदीप के पिता बनी सिंह के बयान पर गांव भठगांव निवासी युवक और उसके परिजनों पर हत्या का आरोप लगाया था।

बनी सिंह ने बताया था कि उसके बेटे संदीप की शादी जींद के गांव करसिंधू की निर्मल के साथ हुई थी। जिसके भठगांव के युवक के साथ संबंध बन गए और वह उसे लेकर चला गया था। बाद में पुलिस ने उन्हें बरामद किया था। वह अपनी पुत्रवधू को समझाकर ले आए थे। उसने युवक और उसके परिजनों पर हत्या का शक जताया था।

पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच की तो पता लगा कि निर्मल गांव के ही संदीप उर्फ बोदा के संपर्क में थी। जिस पर पुलिस ने संदीप की तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। पुलिस ने निर्मल को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने अपने प्रेमी संदीप उर्फ बोदा को अपने पति की हत्या करने को कहा था। जिस पुलिस उप निरीक्षक पूर्ण सिंह की टीम ने संदीप उर्फ बोदा की तलाश तेज की। पुलिस ने उसे रविवार देर रात गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार उसने वारदात को अंजाम देना कबूल किया। उसने बताया कि वारदात में उसकी महिला मित्र गोहाना की आशा भी शामिल थी। उसने षड्यंत्र के तहत आशा की दोस्ती निर्मल के पति संदीप से कराई थी। आशा ने शनिवार रात को बहाने से संदीप को गोहाना बुलाया था। वह बाइक लेकर गोहाना पहुंचा तो वहां से आशा उसे उनके खेतों में ले आई थी।

पुलिस के अनुसार संदीप ने बताया है कि वह खेत में वह पहले से मौजूद था। जहां उन्होंने गला दबाकर निर्मल के पति संदीप की हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देकर वह वहां से फरार हो गए।

संदीप की गिरफ्तारी के बाद सोमवार सुबह पुलिस ने आशा को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने संदीप उर्फ बोदा की निशानदेही पर मृतक संदीप और आशा का मोबाइल संदीप के खेत से बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने तीनों को अदालत में पेश किया, जहां संदीप उर्फ बोदा को दो दिन के रिमांड पर लिया है।