वीएफआई समूह की अमरीकी कंपनी सिमॉन्य के साथ साझेदारी

नई दिल्ली। स्प्रिंगफिट ब्रांड के तहत कारोबार करने वाली कंपनी वारामूर्ति फ्लेक्सिरब इंडस्ट्री ने अमेरिकी लक्जरी मैट्रेस कंपनी सिमॉन्स के साथ साझेदारी करने की घोषणा की। इसके आधार पर कंपनी ने अपने कारोबार में शत प्रतिशत बढोतरी की उम्मीद जताई है।

वीएफआई ग्रुप के सेल्स एंड मार्केटिंग निदेशक एसके मल्होत्रा ने आज यह जानकारी देते हुये कहा कि कंपनी ने वैश्विक बाजार में कदम रखा और अपने पोर्टफोलियो का विस्तार किया है। वीएफआई ग्रुप ने हाल ही में अग्रणी अमरीकी मैट्रेस ब्रांड सिमॉन्स के साथ एक करार किया है जिसके तहत वीएफआई को भारत में सिमॉन्स के लग्जरियस रेंज के मैट्रेस की मैन्युफैक्चरिंग का लाइसेंस मिल गया है। इनकी कीमत 1 लाख से लेकर 10 लाख रुपए तक होती है।

उन्होंने इस भागीदारी से उसके कारोबार में शत प्रतिशत की बढोतरी होने की उम्मीद जताते हुये कहा कि देश में विस्तार की योजना बनाई गई है जिसके तहत अगले दो वर्षाें में करीब 200 एक्सक्लुसिव शोरूम शुरू की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अभी दुनिया के 34 देशों में उनकी कंपनी मैट्रेस निर्यात कर रही है और इससे जल्द ही 100 करोड़ रुपए के राजस्व मिलने की उम्मीद है। हरिद्वार, मेरठ, वड़ोदरा और कोयंबटूर स्थित चार मैन्युफैक्चरिंग यूनिटों से सालाना 4 लाख मैट्रेस का उत्पादन कर रही है। कंपनी ने हाल ही में मेरठ और वडोदरा में विस्तार किया है। इसके साथ ही उत्पादन दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है।