भाजपा नेता राजेंद्र छाबड़ा के कथित अपहरण का मामला हनी ट्रैप का निकला

श्रीगंगानगर। राजस्थान में श्रीगंगानगर के भारतीय जनता पार्टी नेता एवं कपड़ा व्यापारी राजेंद्र छाबड़ा का कथित रूप से अज्ञात व्यक्तियों द्वारा अपहरण करने का मामला हनी ट्रैप का निकला।

आज देर शाम खुलासा हुआ कि यह मामला फेसबुक पर एक महिला से हुई दोस्ती और फिर हनीट्रैप करके ब्लैकमेलिंग का निकला। जवाहरनगर थाना प्रभारी विश्वजीतसिंह ने देर रात बताया कि राजेंद्र छाबड़ा द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर एक महिला और एक पुरुष पर डरा धमका कर ब्लैकमेल करने के आरोप में जीरो नंबर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस प्राथमिकी को पुलिस अधीक्षक के माध्यम से हरियाणा के सिरसा जिला की पुलिस को जांच के लिए प्रेषित किया जाएगा।

राजेंद्र छाबड़ा को कल देर शाम को सिरसा जिले में ओढां थाना अंतर्गत घुक्कांवाली गांव में एक महिला और एक पुरुष में घर में बंधक बना लिया। किसी मुकदमे में फंसा देने की धमकी देकर उनकी कार छीन ली। इस आशय की राजेंद्र छाबड़ा द्वारा रिपोर्ट दी गई है, जिसके धारा 384 और अन्य धाराओं में जीरो नंबर मुकदमा दर्ज किया गया।

स्थानीय न्यू क्लॉथ मार्केट में राजेंद्र छाबड़ा का कपड़े का कारोबार है। छाबड़ा भाजपा के वरिष्ठ नेता और सक्रिय समाजसेवी हैं। वह शहर की अनेक धार्मिक और सामाजिक संस्थाओं से जुड़े हुए हैं। उनकी धर्मपत्नी भी भाजपा की नेत्री हैं।

उधर जवाहरनगर थाना प्रभारी विश्वजीत ने बताया कि राजेंद्र छाबड़ा ने बताया कि कुछ अरसा पहले उनके फेसबुक प्रोफाइल पर फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी, जिसे स्वीकार कर लिया। फ्रेंड रिक्वेस्ट करने वाली महिला से उसकी बातचीत होने लगी।

इसी महिला ने कल शाम को मिलने के लिए घुक्कांवाली बुलाया। वहां जाने पर उसने और उसके एक पुरुष साथी ने बंधक बना लिया। डरा धमकाकर गाड़ी छीन ली। यह सारा मामला हनीट्रैप का निकला। अब इसकी आगे जांच सिरसा पुलिस करेगी।