प्रश्न पत्र वितरण की गड़बड़ के चलते NEET परीक्षा दोबारा होने की संभावना

श्रीगंगानगर। राजस्थान के श्रीगंगानगर में साधुवाली छावनी में स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल के केंद्र पर रविवार को नीट परीक्षा के दौरान हिंदी और अंग्रेजी माध्यम के प्रश्न पत्रों के गलत वितरण के चलते हुई गड़बड़ी के कारण यह परीक्षा अब दोबारा आयोजित किए जाने की संभावना है।

नीट परीक्षा के लिए सिटी को-ऑर्डिनेटर द्वारा इसकी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को अनुशंसा की गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आर्मी स्कूल में हुए ‘नीट’ परीक्षा के संबंध में वहाँ के केंद्र अधीक्षक ने पर्यवेक्षक एसडी लॉ कॉलेज के प्राचार्य डॉ आरपी वर्मा और एसडी पीजी लॉ कॉलेज प्रो राहुल कुमार को अपनी रिपोर्ट भेज दी है। केंद्र अधीक्षक ने शुरू से आखिर तक जो कुछ हुआ, उन तथ्यों का हवाला देते हुए अपनी ओर से इस परीक्षा केंद्र पर नीट परीक्षा फिर से करवाने की सिफ़ारिश की है।

ऑब्जर्वर डॉ आरपी वर्मा ने बताया कि उन्होंने भी परीक्षा करवाने वाली एजेंसी को रिपोर्ट भेज कर आर्मी स्कूल के सेंटर पर फिर से नीट परीक्षा करवाने की सिफ़ारिश की है। इस बारे में एक रिपोर्ट इस परीक्षा के लिए नियुक्त सिटी को-ऑर्डिनेटर को भी भेजी गई है। जानकारी के मुताबिक सिटी को-ऑर्डिनेटर ने यह परीक्षा दोबारा करवाए जाने की अनुशंसा की है।

गौरतलब है कि आर्मी पब्लिक स्कूल के इस केंद्र में रविवार को दोपहर की पारी में नीट की परीक्षा देने के लिए 936 विद्यार्थी उपस्थित हुए। इनमें से 236 विद्यार्थी हिंदी माध्यम से परीक्षा देने वाले थे दोपहर दो बजे परीक्षा आरंभ होने पर हिंदी माध्यम के विद्यार्थियों को अंग्रेजी का प्रश्न पत्र वितरित कर दिया गया।

यह गड़बड़ होने का पता चलते ही प्रश्न पत्र वापस ले लिए गए। इन विद्यार्थियों के लिए केंद्र अधीक्षक, पर्यवेक्षक और सिटी को-ऑर्डिनेटर ने हिंदी के प्रश्न पत्र उपलब्ध करवाने के लिए काफी प्रयास किए लेकिन प्रश्न पत्रों की व्यवस्था नहीं हो पाई।

इसी बीच शाम 5.20 बजे परीक्षा का समय समाप्त हो गया। यह विद्यार्थी परीक्षा नहीं दे पाए थे। बाद में विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों ने कल देर रात तक छावनी गेट के सामने हंगामा किया।