श्रीलंका : सशस्त्र बलों को दिया गया गोली चलाने का आदेश

कोलंबो। श्रीलंका में जारी आर्थिक संकट के बीच सोमवार को सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने सत्ताधारी दल के कई नेताओं की संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया। देश में सांसदों और नेताओं पर हमला बोले जाने की लगातार आ रही खबरों के बीच अब रक्षा मंत्रालय के द्वारा मंगलवार शाम को श्रीलंकाई सशस्त्र बलों को सार्वजनिक संपत्ति को लूटने या दूसरों को नुकसान पहुंचाने वाले किसी भी व्यक्ति पर गोली चलाने का आदेश दिया गया है।

स्थानीय मीडिया में मालवाना नामक शहर में एक घर को आग की लपटों में घिरा हुआ दिखाया गया। यहां के निवासियों ने बताया कि कुछ लोगों ने मिलकर एक मंत्री के घर पर हमला बोला। पुलिस ने कहा कि हिंसा में सत्तारूढ़ दल के एक विधायक, एक मेयर और दो पुलिसकर्मियों सहित आठ लोगों की मौत हो गई है।

पूर्व प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के समर्थकों के एक समूह द्वारा कोलंबो में शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे लोगों के एक समूह पर हमला किए जाने के बाद भीड़ ने सत्तारूढ़ पार्टी के अधिकारियों की संपत्ति को नुकसान पहुंचाना शुरू किया।

इस बीच नेगोंबो में दो समूहों के बीच हुई झड़प में घायल हुए कम से कम छह लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां के दीन जंक्शन पर स्थित कुछ दुकानों को भी आग के हवाले कर दिया गया। इलाके के निवासियों ने कहा कि कुछ व्यक्तियों द्वारा सांप्रदायिक तनाव पैदा किए जाने की कोशिश की जा रही थी।