श्रीलंका के आलराउंडर तिषारा परेरा ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

कोलम्बो। श्रीलंका के आलराउंडर तिषारा परेरा ने 32 साल की उम्र में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है।

परेरा ने बोर्ड को लिखे पत्र में सूचित करते हुए कहा कि उनके लिए युवा और ज्यादा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को जगह देने के लिए अपनी जगह छोड़ने का यह सही समय है ताकि वह अपनी पारिवारिक जिंदगी और निजी लक्ष्यों पर ज्यादा ध्यान केंद्रित कर सकें।

परेरा का अपना सीमित ओवरों का करियर 11 वर्षों तक चला। उन्होंने अपना पदार्पण दिसम्बर 2009 में किया था। इन 11 वर्षों में परेरा ने श्रीलंका के लिए 166 वनडे (2338 रन, 175 विकेट) और 84 टी 20 (1204 रन, 51 विकेट) खेले। परेरा ने अपने छह टेस्ट मैचों में आखिरी टेस्ट 2012 में खेला था।

परेरा पिछले एक दशक से अधिक समय में सफ़ेद बॉल क्रिकेट में श्रीलंका की उछाल का महत्वपूर्ण हिस्सा थे जैसे श्रीलंका की 2014 में टी-20 विश्व कप जीत जिसमें उन्होंने फाइनल में भारत के खिलाफ विजयी रन मारे थे। निचले मध्य क्रम के आक्रामक बल्लेबाज के रूप में परेरा ने 2011 विश्व कप के फाइनल में भारत के खिलाफ अपना प्रभाव छोड़ा था।

उन्होंने कहा कि मुझे इस बात पर काफी गर्व है कि मैंने सात क्रिकेट विश्व कप में श्रीलंका का प्रतिनिधित्व किया और मैं बांग्लादेश में भारत के खिलाफ 2014 के टी 20 विश्व कप जीत में योगदान देने वाला सदस्य था। यह मेरे जीवन का सबसे बड़ा आकर्षण था।

परेरा 2017 में श्रीलंका की वनडे और टी 20 टीमों के कप्तान बनाये गए थे। वर्ष 2019 में उन्होंने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ 74 गेंदों में 140 रन बनाये थे जिसमें 13 छक्के शामिल थे जो किसी श्रीलंकाई खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक थे।

वह एकमात्र श्रीलंकाई हैं जिनके नाम प्रोफेशनल क्रिकेट में एक ओवर में छह छक्के मारने का रिकॉर्ड है। परेरा के नाम वनडे और टी 20 दोनों में हैट्रिक दर्ज है। परेरा आखिरी बार इस साल वेस्ट इंडीज के खिलाफ वनडे और टी 20 सीरीज दोनों में खेले थे।