बारां जिले के छबड़ा में चाकूबाजी के बाद तनाव, कर्फ्यू लगाया

बारां। राजस्थान में बारां जिले के छबड़ा उपखण्ड मुख्यालय के धरनावदा चौराहे पर शनिवार शाम को हुई चाकूबाजी की घटना के बाद रविवार को कस्बे में स्थिति तनावपूर्ण होने के बाद कस्बे में आज कर्फ्यू लगा दिया गया।

घटना के बाद दो समुदाय के लोगों ने कस्बे के अलग-अलग बाजारों में दुकानें बंद कराई। बाद में पत्थरबाजी हुई और कुछ जगहों पर लोगों ने दुकानों में तोड़फोड़ एवं आगजनी की। सूत्रों ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस, प्रशासन के आलाधिकारी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गए।

उधर, कलक्टर राजेन्द्र विजय जिले के छबड़ा नगर पालिका क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने के आदेश दिए हैं। गौरतलब है कि शनिवार शाम को कस्बे के धरनावदा चौराहे पर फलों के ठेले पर अंगूर ले रहे अहमदपुरा निवासी कमल सिंह के साथ तीन युवकों ने मामूली कहासुनी को लेकर हमला कर दिया।

उसे बचाने आए कांच की दुकानदार कोटडी निवासी राकेश नागर पर भी उन्होंने हमला कर दिया। घटना में घायल दोनों युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने इस मामले में फरीद, आबिद, समीर नामक के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने थाने पहुंचकर आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की। साथ ही धरनावदा चौराहे पर एकत्र होकर ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने की मांग की। इस मामले में पुलिस प्रशासन भी सतर्क रहा एवं आक्रोशित लोगों को समझाकर मामले को शांत किया।

इसके बाद रविवार सुबह दोनों समुदाय के लोग फिर आमने सामने हो गए। इस दौरान भीड़ ने मोबाइल की दुकान में लूटपाट की। आग बुझाने गई दमकल में भी तोड़फोड़ की गई। बाजार में मौजूद लोगों को दुकानें छोड़कर मौके से भागना पड़ा।

फिलहाल मौके पर पुलिस जमा है। अतिरीक्त पुलिस बल भी तैनात किया गया है। कोटा से पुलिस महानिरीक्षक डा रवि दत्त गौड़ भी मौके पर पहुंच गए।