राज्य सरकार भर्तियों के प्रति गंभीर नहीं- : घनश्याम तिवाड़ी

जयपुर। भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम तिवाड़ी ने राज्य सरकार पर भर्तियों के प्रति गंभीर नहीं होने का आरोप लगाते हुये कहा कि राजस्थान लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष का पद खाली होने से प्रशासनिक परीक्षा पर संशय बना हुआ है।

तिवाडी ने आज यहां एक बयान जारी कर कहा कि राजस्थान लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष का पद रिक्त चल रहा है, जबकि आरएएस की प्रारंभिक परीक्षा 2018 व इसमें बैठने वाले 5.10 लाख अभ्यर्थियों के भविष्य पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

राज्य सरकार भर्तियों के प्रति गंभीर नहीं-घनश्याम तिवाड़ी
राज्य सरकार भर्तियों के प्रति गंभीर नहीं-घनश्याम तिवाड़ी

उन्हांने कहा कि मुख्यमंत्री सरकारी मशीनरी को अपने कार्यक्रमों में लगाये रखने पर आमादा है और उन्हें बेरोजगारों से और परीक्षा से कोई सरोकार नहीं है । उन्होंने कहा कि प्रदेश में लाखों बेरोजगारों की फौज बढ़ती जा रही है। सारी भर्तियां कोर्ट में लंबित चल रही है, जिस पर सरकार द्वारा मजबूत पैरवी नहीं की जा रही है।

तिवाड़ी ने बजट सत्र के दौरान भी आरपीएससी के अध्यक्ष पद का विधानसभा में भी मुद्दा उठाया था। विधानसभा में कहा था कि सरकार पार्ट टाइम अध्यक्षों की नियुक्ति न कर पूर्णकालिक अध्यक्ष ​की नियुक्ति करें तथा ऐसी व्यवस्था करे की भर्तियां कोर्ट में ना अटके बल्कि समय पर परीक्षा आयोजित करवा कर बेरोजगारों को नौकरियां दे।