ये एक करोड़ रुपया सिरोही को देगा विजन और रीज़न

सिरोही की सारणेश्वर लाइब्रेरी।
सिरोही की सारणेश्वर लाइब्रेरी।

सिरोही। व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के अनर्गल ज्ञान की बजाय अब सिरोही के युवा, प्रौढ़ और बुजुर्ग दुनिया भर के उन एप्स से जुड़कर अपना विजन विस्तृत कर सकेंगे। इतना ही नहीं तर्क के साथ अपने कथनों की सत्यता साबित करके दुनिया भर की श्रेष्ठ ई लाइब्रेरीज और एप में विस्तारित ज्ञान का रेफरेंस भी डें सकेंगे।

सिरोही की ऐतिहासिक सारणेश्वर लाइब्रेरी के अपग्रेडेशन के लिए राजस्थान सरकार के भाषा  एवं पुस्तकालय विभाग द्वारा जारी एक करोड़ रुपया शिक्षा के क्षेत्र में एक मील का पत्थर साबित होगा। विधायक संयम लोढा के साथ राजभाषा राज्यमंत्री राजेन्द्र यादव द्वारा सारणेश्वर लाइब्रेरी के निरीक्षण और निरीक्षण के दौरान हुई चर्चाओं के बाद इसके अपग्रेडेशन के लिए राज्य सरकार ने एक करोड रूपये की राशि स्वीकृत की। राज्य सरकार के निदेशक व पदेन सचिव विष्णु कुमार गोयल ने सिरोही के सारणेश्वर जिला पुस्तकालय के भवन निर्माण, विस्तार, मरम्मत, जीर्णोद्वार कार्य के लिए 1 करोड रूपये की अनुशंसा जारी की।

विधायक संयम लोढा ने बताया कि  सारणेश्वर जिला पुस्तकालय में वातानुकूलित लाईब्रेरी को लेकर जिला कलक्टर के माध्यम से राज्य सरकार को भेजे गये प्रस्ताव में बताया कि सिरोही जिले को भारत सरकार आशांवित जिला योजना में शामिल किया गया है। सिरोही जिला एक छोटा जिला होने से यहाँ अध्ययन हेतु पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध नहीं है साथ ही कोचिंग संस्थानों की अनुपलब्धता के कारण प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु भी जिले के विद्यार्थियों को जिले से बाहर कोचिंग संस्थानों में जाना पड़ता इस जिले में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी हेतु स्तरीय शिक्षण सामग्री पुस्तके इत्यादि उपलब्ध नहीं हो पाती है। जिले में 900 से अधिक विद्यालय एवं मुख्यालय पर 03 महाविद्यालय स्थित हैं। जिले में 1 लाख 71 हजार छात्र अध्ययनरत है। एक ई पुस्तकालय, वाचनालय एवं व्यवस्थित पुस्तकालय की जिले में आवश्यकता है।

-ई वाचनालय में यह मिलेगी सुविधाएं
सिरोही जिला मुख्यालय पर स्थित इस पुस्तकालय के पीछे खाली भुमि पडी हुई हैं जिस पर 150 पाठको के लिए दो मंजिला वाचनालय भवन प्रस्तावित हैं जिसमे ई लाईब्रेरी तथा वाचनालय संचालित होगा। वाचनालय मे आधुनिक फर्नीचर व अन्य सुविधाएँ पाठको को प्राप्त होगी जिससे अधिक से अधिक पाठक पुस्तकालय से जुड़ेंगे और लाभ प्राप्त करेंगे।

-सम्पूर्ण लाईब्रेरी में होगा वाईफाई जोन
<span;>इस पुस्तकालय मे बनने वाले दो मंजिला वाचनालय भवन में ई. लाईब्रेरी भी संचालित होगी। सम्पूर्ण भवन वाई फाई जोन होगा जिसमे 20 कम्प्यूटर मय इन्टरनेट कनेक्शन के स्थापित होंगे। अन्य ई लाईब्रेरियों की सदस्यता ली जावेगी जिससे पाठक अन्य पुस्तकालय में उपलब्ध सामग्री का ऑनलाईन उपयोग कर सकेंगे। पाठक देश विदेश की नवीनतम जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। ई लाईब्रेरी का उपयोग करने से पाठक प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी अच्छी तरह कर पाएंगे जो उनका अच्छा भविष्य बनाने मेंसहायक सिद्व होगी।

-10 ई लाईब्रेरी का होगा सब्सक्रिप्शन
विधायक संयम लोढा ने बताया कि ई लाईब्रेरी व
वाचनालय का नव निर्माण 60 लाख, सोलर 25 किलो वाट 14.55 लाख, 17 एयर कंडिशनर 9 लाख 89 हजार, 20 कम्प्युटर टेबल 70 हजार, 20 कुर्सी 25 हजार, 20 अलमारी 2 लाख 55 हजार, 15 लाईब्रेरी टेबल 4 लाख 36 हजारव्यय होगा।
20 कम्प्युटर मय एक प्रिंटर 12 लाख 22 हजार, फ्री वाई फाई जोन 15 हजार वार्षिक, 1 लाईब्रेरी सॉफ्टेवर डेमो वर्जन 40 हजार वार्षिक, 10 ई लाईब्रेरी की सदस्यता की अनुमानित 20 हजार रूपये वार्षिक राशि अनुमानित व्यय होगी।इसी के साथ वर्तमान भवन को सुदृढीकरण, मरम्मत, रंग रोगन की आवश्यकता है।
वर्तमान पुस्तकालय भवन में बडे हॉल में पाठको के बैठने की व्यवस्था होने से सभी पाठको पर पुस्तकालय कर्मचारियों द्वारा निगरानी नही रखी जा सकती जिससे पुस्तक चोरी होने का अंदेशा रहता है। इसके लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाये जायेगे।
ई लाईब्रेरी में भवन के मरम्मत व रंगरोगन पर 10 लाख, 16 सीसीटीवी कैमरे 60 हजार, 1 वुड न्यूज पेपर होल्डर 12 हजार, 10 लाईब्रेरी पार्टिशन सहित 8 कुर्सी 2 लाख 90, 2 मैग्जीन डिस्पले होल्डर 10 हजार, 2 न्यूज पेपर डिस्पले स्टेण्ड 12 हजार, प्रतियोगी पुस्तके 1 लाख, प्रतियोगी पत्रिका 50 हजार रूपये व्यय किये जायेंगे। साथ पुस्तकालय संचालन के लिए एक पुस्तकालय अध्यक्ष, एक कनिष्ठ सहायक, 3 चतुर्थ कर्मचारी, एक सूचना सहायक पर कुल 6 लाख 94 हजार रूपये वार्षिक व्यय होगा।