हरियाणा में राज्य स्तरीय स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 अभियान एक अगस्त से

हरियाणा में राज्य स्तरीय स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 अभियान एक अगस्त से
हरियाणा में राज्य स्तरीय स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 अभियान एक अगस्त से

चंडीगढ़ । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज कहा कि राज्य में एक से 31 अगस्त तक राज्य स्तरीय स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 चलाया जाएगा जिसके अंतर्गत गांवों का सर्वेक्षण कर इन्हें स्वच्छता आधार पर रैकिंग और अंक प्रदान किये जाएंगे।

खट्टर ने यहां वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला उपायुक्तों एवं अतिरिक्त उपायुक्तों को सम्बोधित करते हुए उनसे इस अभियान में समाज की भागीदारी सुनिश्चत कर इसे एक सामाजिक अभियान बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि स्वच्छता के आधार पर गांवों को दी गई रैंकिंग और अंकों का आगामी दो अक्तूबरको महात्मा गांधी जयंती पर परिणाम घोषित किया जाएगा तथा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले गांवों को पुरस्कृत किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि यह अभियान एक राष्ट्रीय कार्यक्रम का एक हिस्सा है जिसके तहत सर्वश्रेष्ठ जिलों और राज्यों को भी पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर राज्य के विकास एवं पंचायत मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सभी शौचालयों की जीयो टैगिंग का कार्य शीर्घ पूरा करने तथा मंत्री और विधायकों से जिला स्तर पर इस अभियान की औपचारिक शुरूआत कराने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि इस सर्वेक्षण से गांवों में स्वच्छता को लेकर प्रतिस्पर्धा की भावना पैदा होगी तथा मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी भी गठित की जाएगी जो समय-समय पर स्वच्छता कार्यों की समीक्षा करेगी।

खट्टर ने जिला उपायुक्तों को न केवल पंचायतों बल्कि जिला परिषदों और जिला समितियों को भी इस अभियान में भागीदार बनाने तथा इस दृष्टि से उन्हें भी कुछ गांव आवंटित करने, गांवों में कुड़ा-कचरा और गोबर के निपटान की व्यवस्था सही बनाने तथा बारिश के मौसम में जलभराव रोकने के लिये गड्ढों को समय से भरने के निर्देश दिये।