शुरुआती बढ़त गँवाकर गिरावट में रहा शेयर बाजार

Stock market was in decline after losing the initial gains
Stock market was in decline after losing the initial gains

मुंबई। मजबूत निवेश धारणा के बीच दिग्गज कंपनियों में मुनाफावसूली से बीएसई का सेंसेक्स आज 59.14 अंक यानी 0.15 प्रतिशत लुढ़ककर 38,310.49 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 7.95 अंक यानी 0.07 प्रतिशत टूटकर 11,300.45 अंक पर बंद हुआ।

दोनों प्रमुख सूचकांक लगातार दूसरे दिन लाल निशान में रहे। दोपहर से पहले 150 अंक से अधिक की बढ़त बनाने के बाद दिग्गज कंपनियों में मुनाफावसूली से सेंसेक्स दबाव में आ गया। वहीं, मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों ने पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 1.59 प्रतिशत की जबरदस्त तेजी के साथ 14,582.35 अंक पर और स्मॉलकैप 0.76 फीसदी की बढ़त में 13,939.64 अंक पर पहुँच गया।

पूँजीगत वस्तुओं, इंडस्ट्रियल्स, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद, धातु और रियलिटी समूहों में तेजी रही। दूरसंचार समूह दबाव में रहा। सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल और सनफार्मा के शेयर दो प्रतिशत से अधिक टूटे। आईटीसी, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसी दिग्गज कंपनियों में बिकवाली से भी सेंसेक्स पर दबाव बढ़ा। वहीं, एलएंडटी में चार फीसदी से अधिक और टाइटन में करीब पौने चार प्रतिशत की मजबूती रही।

अधिकतर एशियाई बाजार हरे निशान में रहे जबकि यूरोपीय बाजारों में बिकवाली हावी रही। एशिया में जापान का निक्की 1.78 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.21 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.04 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ जबकि हांगकांग का हैंगसेंग 0.05 फीसदी लुढ़क गया। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.84 फीसदी और जर्मनी का डैक्स 0.14 प्रतिशत टूट गया।

सुबह के समय बाजार में लिवाली का जोर रहा। सेंसेक्स 87.01 अंक की मजबूती के साथ 38,456.64 अंक पर खुला और दोपहर से पहले करीब डेढ़ सौ अंक चढ़ता हुआ 38,516.85 अंक पर पहुँच गया। लेकिन इसके बाद शुरू हुई बिकवाली से यह लाल निशान में चला गया और 38,215.05 अंक तक उतर गया। अंत में गत दिवस की तुलना में 0.15 प्रतिशत नीचे 38,310.49 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,874 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,576 में लिवाली और 1,156 में बिकवाली का जोर रहा जबकि शेष 142 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये।
निफ्टी 26.45 अंक की बढ़त में 11,334.85 अंक पर खुला।

यह ऊपर 11,359.30 अंक तक और नीचे 11,269.95 अंक तक गया। अंत में गत दिवस की तुलना में 0.07 फीसदी की गिरावट के साथ 11,300.45 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 26 के शेयरों में लिवाली और अन्य 23 में बिकवाली का जोर रहा जबकि टाटा स्टील का शेयर अंत में गत दिवस के स्तर पर ही बंद हुआ।

बीएसई में पूँजीगत वस्तुओं के समूह का सूचकांक सबसे अधिक 3.81 प्रतिशत चढ़ा। इंडस्ट्रियल्स में 3.16 फीसदी, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद में 2.07 और धातु समूह में 1.08 प्रतिशत की तेजी रही। रियलिटी और सीजीडीएंडएस समूहों के सूचकांक भी करीब एक प्रतिशत चढ़े। इनके अलावा ऑटो, बुनियादी वस्तुओं, बिजली, तेल एवं गैस, एफएमसीजी, आईटी और यूटिलिटीज समूहों के सूचकांक भी हरे निशान में बंद हुये। दूरसंचार समूह में सबसे ज्यादा 1.49 प्रतिशत की गिरावट रही। स्वास्थ्य, बैंकिंग, टेक, वित्त और ऊर्जा समूहों के सूचकांक भी लाल निशान में रहे।

सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल का शेयर सबसे अधिक 2.35 प्रतिशत लुढ़का। सनफार्मा का शेयर 2.11 प्रतिशत, आईटीसी का 1.30, भारतीय स्टेट बैंक का 0.74, एक्सिस बैंक का 0.64, एचडीएफसी का 0.55, महिंद्रा एंड महिंद्रा का 0.53, एचडीएफसी बैंक का 0.45, इंफोसिस का 0.43, नेस्ले इंडिया का 0.37, इंडसइंड बैंक और टाटा स्टील दोनों का 0.36, बजाज ऑटो का 0.26, रिलायंस इंडस्ट्रीज का 0.25, बजाज फिनसर्व का 0.16, टीसीएस का 0.05 और मारुति सुजुकी का 0.01 प्रतिशत टूट गया।

एलएंडटी का शेयर सर्वाधिक 4.31 प्रतिशत चढ़ा। टाइटन में 3.73 फीसदी, एचसीएल टेक्नोलॉजीज में 1.21, अल्ट्राटेक सीमेंट का 1.20, एनटीपीसी का 1.16, टेक महिंद्रा का 0.73, ओएनजीसी का 0.64, पावरग्रिड का 0.48, आईसीआईसीआई बैंक और एशियन पेंट्स दोनों का 0.30, हिंदुस्तान यूनिलिवर का 0.16, कोटक महिंद्रा बैंक का 0.07 और बजाज फाइनेंस का 0.01 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ।