शेयर बाजारों में गिरावट जारी, सेंसेक्स 135 अंक टूटा

मुंबई। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के भारत का विकास अनुमान घटाने के बाद बुधवार को घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट रही। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 135.05 अंक यानी 0.26 प्रतिशत टूटकर 52,443.71 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ़्टी 37.05 अंक यानी 0.24 फीसदी गिरकर 15,709.40 अंक पर रहा।

सेंसेक्स सुबह 94.93 अंक चढ़कर 52,673.69 अंक पर खुला लेकिन खुलते ही लाल निशान में चला गया और पूरे दिन सँभल नहीं सका। बीच कारोबार में यह 51,802.73 अंक तक टूट गया था। निफ्टी का दिवस का उच्चतम स्तर 15,767.50 अंक और निचला स्तर 15,513.45 अंक रहा।

छोटी कंपनियों में भी निवेशकों के बिकवाली रहने से बीएसई का स्मॉलकैप 0.45 प्रतिशत लुढ़ककर 26,365.97 अंक पर आ गया। मझौली कंपनियों का सूचकांक मिडकैप 0.69 अंक की मामूली बढ़त में 22,880.08 अंक पर लगभग स्थिर रहा।

बीएसई में दूरसंचार समूह का सूचकांक 4.41 प्रतिशत उछल गया। धातु समूह में 1.41 प्रतिशत की तेजी रही। वहीं ऑटो समूह का सूचकांक 1.01 प्रतिशत लुढ़क गया। बैंकिंग, वित्त, ऊर्जा और स्वास्थ्य समूहों ने भी बाजार पर दबाव बनाया।

सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल का शेयर 5.08 फीसदी की बढ़त में रहा। टाटा स्टील में 2.60 फीसदी, इंडसइंड बैंक में 1.71 फीसदी, बजाज फिनसर्व में 1.34 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक में 1.13 फीसदी और अल्ट्राटेक सीमेंट में 1.08 फीसदी की तेजी रही।
कोटक महिंद्रा बैंक का शेयर 2.64 प्रतिशत, डॉ. रेड्डीज लैब का 2.36 प्रतिशत और महिंद्रा एंड महिंद्रा का 2.27 प्रतिशत की गिरावट में रहा।

पावरग्रिड का शेयर 1.74 प्रतिशत, एनटीपीसी का 1.73 प्रतिशत, एचडीएफसी बैंक का 1.54 प्रतिशत, नेस्ले इंडिया का 1.37 प्रतिशत, मारुति सुजुकी का 1.26 प्रतिशत, एक्सिस बैंक का 1.24 प्रतिशत और एचसीएल टेक्नोलॉजीज का 1.02 प्रतिशत टूट गया।

बीएसई में कुल 3,333 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिसमें से 1,414 के शेयर लाल निशान में और 1,791 के हरे निशान में रहे जबकि 128 कंपनियों के शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा। हांगकांग का हैंगसेंग 1.54 प्रतिशत और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.13 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ जबकि जापान के निक्केई में 1.39 फीसदी और चीन के शंघाई कंपोजिट में 0.58 प्रतिशत लुढ़क गया। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.17 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.19 प्रतिशत मजबूत हुआ।