नदियों और नहरों को प्रदूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई

नदियों और नहरों को प्रदूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई
नदियों और नहरों को प्रदूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई

चंडीगढ़, | पंजाब के राजस्व एवं जल संसाधन मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया ने नदियों और नहरों को प्रदूषित करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

राज्य को हरा-भरा और साफ़-सुथरा बनाने के लिए पिछले दिनों शुरू किये गए मिशन ‘तंदरुस्त पंजाब’ के मद्देनजऱ श्री सरकारिया ने प्राकृतिक जल स्रोतों काे प्रदूषित करने वालों पर शिकंजा कसने की चेतावनी देते हुये कहा कि आने वाले दिनों में वह स्वयं मौके पर जाकर नदी जल का जायज़ा लेंगे और किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

उन्होंने कहा कि राज्य के कई इलाकों में भूमिगत पानी नीचे चला गया है तथा खारा होने के कारण उसे पीने के काम में नहीं लाया जा सकता। इसी लिये लोग दरियाओं और नहरों का पानी इस्तेमाल करते हैं। अब समय की मांग है कि पानी को हर हाल में प्रदूषित होने से बचाया जाये। उनके अनुसार नदियों के पानी में दूषित पानी डालकर उसे प्रदूषित बनाया जा रहा है । लाखों लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने वालों के साथ सख्ती के साथ निपटा जायेगा। उन्होंने संबद्ध अधिकारियों को हिदायत की है कि दरियाओं और नहरों में अवशेष और अन्य गंद फैंक कर पानी को दूषित करने वालों पर पैनी नजर रखी जाये ।

ऐसे गैर जिम्मेवार लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाये जिससे अन्य लोगों को भी सबक मिल सके। इस मामले में किसी तरह की ढील और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि धरती पर पानी के बिना जीव-जंतुओं और वनस्पति का अस्तित्व संभव नहीं है। जल के सदुपयोग और संरक्षण के लिए सभी को मिलकर प्रयास करना चाहिए।