शिवांगी स्वरूप बनीं नौसेना की पहली महिला पायलट

कोच्चि। बिहार के मुजफ्फरपुर की सब लेफ्टिनेंट शिवांगी स्वरूप ने नौसेना की पहली महिला पायलट बनने का श्रेय हासिल किया है।

शिवांगी ने सोमवार को अपना आपरेशन प्रशिक्षण पूरा कर लिया और आज से ही यहां आपरेशन ड्यूटी में शामिल हो गईं। चौबीस वर्षीय शिवांगी डोनियर 228 सर्विलांस एयरक्राफ्ट उड़ाएंगी। यह एयरक्राफ्ट हिंदुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा तैयार किया गया है।

पायलट बनने की इच्छा के संबंध में शिवांगी ने बताया कि बचपन में उनके घर के नजदीक एक हेलीकाप्टर को उतरते हुए देखा और इसके बाद ठान लिया कि वह पायलट बनेंगी। पहली महिला नेवी पायलट बनी शिवांगी ने कहा कि वह इस दिन का लंबे समय से इंतजार कर रहीं थी और अंतत यह दिन उनके जीवन में आ ही गया। इसे शानदार अनुभव बताते हुए शिवांगी ने कहा कि अब मैं तीसरे चरण का प्रशिक्षण पूरा करने के लिए काम करुंगी।

शिवांगी के पिता सरकारी स्कूल में अध्यापक हैं और मां गृहिणी हैं। शिवांगी ने प्रारंभिक शिक्षा मुजफ्फरपुर के डीएवी पब्लिक स्कूल से हासिल की। इसके बाद सिक्किम मणिपाल प्रौद्योगिकी संस्थान से बी टेक किया। शिवांगी ने 27 एनओसी कोर्स के तहत एसएसी (पायलट) परीक्षा उत्तीर्ण की और नेवी में कमीशन हासिल किया। प्रारंभिक प्रशिक्षण के बाद शिवांगी पिछले साल जून में नौसेना में शामिल हुई थीं।

गौरतलब है कि इसी वर्ष वायुसेना को भी पहली महिला पायलट के रूप फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत मिली थीं। भावना ने लड़ाकू जेट उड़ाने के लिए पात्रता हासिल की थी।