पानी बचाने, वृक्ष लगाने के संकल्प के साथ समर कैम्प संपन्न

अजमेर। अजमेर जिला वैश्य महासम्मेलन द्वारा लॉरेंस एंड मेयो पब्लिक स्कूल के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित दस दिवसीय समर कैम्प का शुक्रवार को पानी बचाने और वृक्ष लगाने के संकल्प के साथ समापन हुआ।

इस मौके पर जल मित्र एवं जिला महामंत्री उमेश गर्ग ने जल बचाने की शपथ दिलाते हुए कहा कि जल के बिना सृष्टि अधूरी है, इसलिए जल के अपव्यय को रोकना होगा। संकल्प लें कि हम प्रतिदिन प्रति व्यक्ति जितना जल काम में लेते हैं उससे कम जल काम में लेकर पानी की बचत करेंगे।

रमेश तापड़िया ने वैश्य समाज की गतिविधियों की जानकरी देते हुए बताया कि वैश्य समाज सदैव पीड़ित मानवता की सेवा में प्रयासरत रहता है। समाज की ओर से धर्म, अध्यात्म, स्वाथ्य, मनोरंजन एवं आपसी सौहर्द्र के आयोजनों के अलावा विद्यार्थियों के भविष्य को संवारने के कॅरियर कॉउंसलिंग तथा खेल प्रतिस्पर्धाएं भी कराई जाती रही हैं।

समारोह के मुख्य अतिथि अजमेर विकास प्राधिकरण के चेयमैन शिव शंकर हेड़ा थे। अध्यक्षता पूर्व जिला प्रमुख पुखराज पहाड़िया ने की। विशिष्ठ अतिथि रमेश चंद्र अग्रवाल, एसडी बाहेती, अनीता गांधी, मोहन लाल साबू, अशोक पंसारी, राजेंद्र गांधी, अशोक राठी, पार्षद नीरज जैन व महेंद्र जैन मित्तल रहे। सभी अतिथि एवं अभिभावकों को सुसज्जित परिण्डे एवं तुलसीजी का पौधा देकर स्वागत किया गया।

कार्यवाहक अध्यक्ष सतीश बंसल और महिला महामंत्री आभा गांधी ने बताया कि समर केम्प के सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र के साथ तुलसीजी का पौधा उपहार स्वरुप प्रदान किया गया।

समर केम्प के संयोजक अंकुर मित्तल ने बताया कि इस केम्प में 250 से अधिक प्रतिभागियों ने शिरकत की तथा चित्रकला, क्ले मोल्डिंग, आर्ट एन्ड क्राफ्ट, स्केटिंग, मार्शल आर्ट, सेल्फ डिफेन्स, हैंडराइटिंग सुधार, केलीग्राफी, योग, चैस सहित अनेक विधाओं में प्रशिक्षण प्राप्त किया। समापन समारोह में बच्चों ने समर केम्प के दौरान सीखी गई विभिन्न विधाओं जैसे मार्शल आर्ट, डांस, काँगो वादन और अंग्रेजी नाटक का प्रदर्शन भी किया।

इस अवसर पर आईएएस में चयनित प्रतीक जैन को समाज गौरव की उपाधि से अलंकृत कर सम्मानित किया गया। समर केम्प में सहयोगियों का अभिनंदन किया गया। कैम्प के दौरान बच्चों के बीच पक्षियों के परिण्डों पर चित्रांकन प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया, जिसमें 100 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। इसमें लक्षिता मंगल प्रथम, संषम करवा व जूही हटूका द्वितीय स्थान पर रहे।