भारतीय फुटबाल टीम कप्तान सुनील छेत्री ने दर्शकों को किया धन्यवाद

Sunil Chhetri Sends A Thank You Message To Fan For Coming & He’s Now The Internet’s Favourite

मुंबई। भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने केन्या के खिलाफ मुुंबई के फुटबाल एरिना में खेले गए मैच के दौरान स्टेडियम में प्रशंसकों के बड़ी संख्या में मैच देखने के लिए पहुुंचने और घरेलू टीम की हौसला अफ़जाई करने के लिये धन्यवाद किया है।

भारतीय फुटबाल टीम ने केन्या के खिलाफ सोमवार को हुए मैच में 3-0 से एकतरफा जीत दर्ज की थी। छेत्री का यह 100वां अंतरराष्ट्रीय मैच था जिसमें उन्होंने दो गोल किए। छेत्री ने मैच के बाद ट्वीटर पर प्रशंसकों को विशेष संदेश दिया।

उन्होंने लिखा कि मैं आपसे वादा करता हूं कि यदि हमें अपने देश के लिए खेलने पर इस तरह का समर्थन मिलता रहेगा तो हम मैदान पर इसी तरह के जिंदादिल प्रदर्शन दिखाते रहेंगे।

उन्होंने लिखा कि भारत, यह रात हमारे लिए बहुत खास थी क्योंकि हम सभी एकसाथ थे। जो लोग स्टैंड में बैठकर हमारे लिए चिल्ला रहे थे और घरेलू टीम के लिए हौसला अफ़जाई कर रहे थे उनका धन्यवाद।

भारतीय टीम ने इससे पहले चीनी ताइपे को मैच में 5-0 से हराया था और गुरूवार को चार टीमों के टूर्नामेंट में उसका सामना न्यूजीलैंड से होगा। छेत्री ने ताइपे के खिलाफ हैट्रिक जमाई थी।

दरअसल राष्ट्रीय फुटबाल टीम के कप्तान ने केन्या के मैच से पहले सोशल मीडिया पर अपने वीडियो संदेश में देशवासियों से स्टेडियम आकर घरेलू टीम का मैच देखने की भावुक अपील की थी, जिसके बाद मुंबई के स्टेडियम में काफी संख्या में प्रशंसक पहुंचे और भारत का समर्थन किया। भारतीय फुटबाल टीम की किर्गिस्तान के खिलाफ हार के बाद से लगातार 16 मैचों में यह 13वीं जीत है।

इस बीच राष्ट्रीय टीम के कोच स्टीफन कोंस्टेनटाइन ने भी इंटरकांटिनेंटल कप में टीम की जीत पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि मैं मुश्किल परिस्थितियों में भारतीय टीम को मिली जीत के लिए अपने खिलाड़ियों की सराहना करता हूं। हमने पहले हाफ में अच्छा नहीं खेला। लेकिन इस जीत ने हमें टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा दिया है। हमें इसी की जरूरत थी।

कोंस्टेनटाइन ने दर्शकों की मौजूदगी को लेकर कहा कि मुझे नहीं लगा कि हमें राष्ट्रीय टीम का मैच देखने के लिए दर्शकों से अपील करने की जरूरत है। लेकिन लोगों की प्रतिक्रिया लाजवाब रही। हम पिछले तीन वर्षाें से अच्छा खेल रहे हैं लेकिन इस टूर्नामेंट के पहले मैच में खाली स्टैंड देखना निराशाजनक रहा। हम अब अगले दो मैचों में भी स्टेडियम को भरा हुआ देखना चाहते हैं।