कॉलेजियम में न्यायाधीश केएम जोसेफ पर नहीं हो पाया फैसला

supreme court collegium defers decision on justice KM Joseph

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम बुधवार को उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के एम जोसेफ की पदोन्नति के मामले में कोई फैसला नहीं ले पाया।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा एवं शीर्ष चार वरिष्ठतम न्यायाधीशों की कॉलेजियम की महत्वपूर्ण बैठक  शाम साढ़े चार बजे शुरू हुई। बैठक करीब 45 मिनट चली, लेकिन इसमें न्यायमूर्ति जोसेफ को उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीश बनाये जाने की सिफारिश पर पुनर्विचार का फैसला टाल दिया गया।

इसके अलावा कलकत्ता, राजस्थान और तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालयों के न्यायाधीशों की शीर्ष अदालत के न्यायाधीश के तौर पर पदोन्नति पर अंतिम फैसला नहीं हो पाया। इन दोनों मामलों को आगे के लिए टाल दिया गया।

कॉलेजियम के दूसरे वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्ती चेलमेश्वर अवकाश पर थे, लेकिन शाम को हुई बैठक में शामिल होने के लिए वह पहुंच गये थे। न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ और न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर कॉलेजियम के अन्य सदस्य हैं।

कॉलेजियम ने शीर्ष अदालत के न्यायाधीश पद के लिए न्यायमूर्ति जोसेफ के अलावा बार की सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता इंदु मल्होत्रा के नाम की सिफारिश की थी। सरकार ने मल्होत्रा के नाम को मंजूरी दे दी थी, लेकिन न्यायमूर्ति जोसेफ का नाम पुनर्विचार के लिए कॉलेजियम को वापस कर दिया था।