सुप्रीम कोर्ट में एक सितंबर से फिजिकल सुनवाई भी होगी

premeनई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय में करीब 16 माह बाद एक बार फिर से वादियों प्रतिवादियों और वकीलों की चहल पहल शुरू हो जाएगी, क्योंकि एक सितंबर से शीर्ष अदालत में वर्चुअल के साथ साथ फिजिकल सुनवाई भी शुरू हो जाएगी।

शीर्ष अदालत ने रविवार को एक मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) अधिसूचित की है जिसके अनुसार एक सितंबर से नॉन मिसलिनियस दिवस यानी मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को वर्चुअल के साथ साथ फिजिकल सुनवाई होगी, जबकि मिसलिनियस दिवस (सोमवार और शुक्रवार) को वर्चुअल सुनवाई ही होगी।

एसओपी के अनुसार कोरोना के उपयुक्त मानदंडों के पालन के बीच मंगलवार से गुरुवार तक हाइब्रिड विकल्प का उपयोग होगा। मामले में पक्षों की संख्या के साथ-साथ कोर्ट रूम की सीमित क्षमता को देखते हुए संबंधित बेंच निर्णय ले सकती है।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह एक मामले की सुनवाई के दौरान भारत के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) एनवी रमन ने हफ्ते दस दिनों में फिजिकल सुनवाई के संकेत दिए थे।