‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर राहुल गांधी से सुप्रीम कोर्ट का जवाब तलब

Supreme Court's answer on Rahul Gandhi on statement of watchman's thief
Supreme Court’s answer on Rahul Gandhi on statement of watchman’s thief

नई दिल्ली। सुप्रीमकोर्ट ने राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में दिए गए एक ‘विवादित’ बयान को लेकर भारतीय जनता पार्टी की सांसद मीनाक्षी लेखी की ओर से दायर अदालत की अवमानना याचिका पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सोमवार को जवाब तलब किया।

लेखी ने गांधी के उस बयान को लेकर अवमानना याचिका दायर की है, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी माना है कि चौकीदार चोर है। लेखी की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने दलील दी कि कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल मामले में पुनर्विचार याचिकाओं पर केंद्र सरकार की प्रारम्भिक आपत्तियां खारिज किए जाने के बाद यह टिप्पणी की थी कि ‘सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा है- चौकीदार चोर है’।

न्यायमूर्ति गोगोई ने याचिका पर विचार करते हुए कहा कि न्यायालय ने किसी भी मौके पर ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की, जैसा गांधी दावा कर रहे हैं। न्यायालय का फैसला पूरी तरह पुनर्विचार याचिकाओं के साथ संलग्न दस्तावेजों की स्वीकार्यता के कानूनी सवाल पर आधारित था। पीठ ने कहा कि राहुल गांधी इस टिप्पणी को लेकर 22 अप्रेल तक अपना पक्ष रखें।

गौरतलब है कि गांधी ने कहा था कि पूरा देश यह कह रहा है कि चौकीदार चोर है। यह उत्सव का दिन है। शीर्ष अदालत ने इस मामले में न्याय किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि शीर्ष अदालत ने मान लिया है कि राफेल में कुछ भ्रष्टाचार हुआ है और यह भी मान लिया है कि चौकीदार ने ही चोरी करवाई है। गांधी का यह बयान अमेठी में नामांकन दाखिल करने के क्रम में आया था।