शिव सेना ने आदित्य ठाकरे को बदनाम करने पर भाजपा पर साधा निशाना

मुंबई। शिवसेना ने रविवार को विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी पर बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या मामले में राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे का नाम जोड़कर राजनीतिक फायदा उठाने का आरोप लगाया।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने पार्टी के मुखपत्र सामना में इसकी कड़ी निंदा करते हुए कहा यह सब भाजपा की साजिश है जो मीडिया के एक वर्ग की मदद से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार को बदनाम कर रही है।

राउत ने कहा कि एक टीवी चैनल द्वारा मुख्यमंत्री के खिलाफ अपमानजनक और धमकी भरी लफ्जों का उपयोग करने से राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार सहित कई नेता परेशान हैं। मीडिया का एक वर्ग विपक्षी दल का समर्थन कर रहा है जो राज्य सरकार अस्थिर करना चाहता है। पावर ने मुझसे पूछा कि संवैधानिक पद की जिम्मेदारी संभाल रहे ठाकरे का अपमान करने पर सरकार ने मीडिया के उस वर्ग के खिलाफ क्या कार्रवाई की है।

उन्होंने आशंका जताई कि पूरे सुशांत प्रकरण को विपक्ष ने राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे से जोडने के लिए पहले से स्क्रिप्ट तैयार करके रखी हुई थी। यह इसलिए कि उनका बॉलीवुड के हस्तियों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध है और यह महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ एक साजिश रजी गई है।

शिवसेना सांसद ने बिहार पुलिस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वह बेवजह ही इस मामले में दखल दे रही है। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह के संघर्ष के दिनों में कोई उनके साथ खड़े नहीं थे और सुशांत ने जो कुछ भी हासिल किया, वह मुंबई में आने के बाद हासिल किया।