लालू यादव ने जांच रुकवाने के बदले सरकार गिराने का दिया था वचन : सुशील मोदी

Sushil Kumar Modi calls Lalu Prasad Yadav had promised to drop govt in lieu of investigation
Sushil Kumar Modi calls Lalu Prasad Yadav had promised to drop govt in lieu of investigation

पटना। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने चारा घोटाला मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो की चल रही जांच में मदद के लिए भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली से गुहार लगाई और इसके बदले में जनता दल यूनाईटेड सरकार को गिरा देने का वचन दिया था।

भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि झारखंड उच्च न्यायालय ने जब चारा घोटाला मामले में 04 नवंबर 2014 को राजद अध्यक्ष के पक्ष में फैसला दिया था कि इससे जुड़े अन्य मामले में ट्रायल की जरूरत नहीं है तो सीबीआई ने इस फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी। इसके बाद यादव ने अपने विशेष दूत एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेम गुप्ता को जेटली के पास भेजा था।

मोदी ने कहा कि यादव ने गुप्ता को भाजपा नेता जेटली से मिलकर सीबीआई को चारा घोटाले के मामले में उच्चतम न्यायालय में अपील नहीं करने में मदद करने की गुहार लगाई। गुप्ता ने जेटली से कहा था कि यदि इस मामले में मदद मिलती है तो 24 घंटे के अंदर बिहार में जदयू की सरकार गिरा दी जाएगी। राजद अध्यक्ष यादव और गुप्ता दोनों ने ही जेटली से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष के इस आग्रह पर जेटली ने स्पष्ट कहा था कि वह ब्यूरो के कामकाज में किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं कर सकते क्योंकि वह स्वायत्त संस्था है।

भाजपा नेता ने कहा कि यादव अपने निजी स्वार्थ के लिए किसी के भी पैर पर गिर सकते हैं। वर्ष 1990 में यादव जब बिहार के मुख्यमंत्री बने थे उस दौरान भी वह भाजपा का समर्थन लेने के लिए पार्टी के प्रदेश कार्यालय आए थे और पार्टी के तत्कालीन नेता कैलाशपति मिश्र से सहयोग पत्र लेकर ही उन्हें अपना शिकार बनाया था। भाजपा के समर्थन का पत्र राज्यपाल को दिया था।

उन्होंने कहा कि छपरा से जब यादव लोकसभा का चुनाव लड़ रहे थे तब भी उन्होंने भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की मदद ली थी। उन्होंने आरोप लगाया कि यादव वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव को जेल के अंदर से प्रभावित करने में लगे हुए हैं। मोदी ने कहा कि राजद अध्यक्ष यादव अपने मुकदमे को कमजोर करने के लिए भाजपा के नेताओं से कई बार मिल चुके हैं। जेटली से यादव और उनके विशेष दूत गुप्ता ने चार बार मुलाकाता की थी। उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष और उनके दूत से मुलाकात की जानकारी जेटली ने उन्हें दी थी।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि भाजपा ने मदद कर दी होती तो स्थिति कुछ और होती। उन्होंने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि यादव का चरित्र कैसा है, यह इसका जीता जागता उदाहरण है। उन्होंने तंज कसते हुये कहा कि यादव को चारा घोटाला मामले मामले में 27 वर्षों की सजा हुई है। उन्हें जिंदगी का एक बड़ा हिस्सा जेल में ही गुजारनी होगी।