स्वदेशी जागरण मंच चित्तौड़ प्रांत की बैठक, युवाओं को दी नई जिम्मेदारी

अजमेर। स्वदेशी जागरण मंच चित्तौड़ प्रांत की बुधवार को आयोजित बैठक में 12 जिलों में मंच के अभियानों पर विस्तृत चर्चा की गई साथ ही युवाओं को नई जिम्मेदारियां दी गईं।

अजमेर विभाग के विभाग संयोजक डॉक्टर संत कुमार ने बताया कि स्वदेशी जागरण मंच की स्थापना संघ के वरिष्ठ प्रचारक और आर्थिक चिंतक दत्तोपंत ठेंगड़ी के द्वारा की गई जिसका उद्देश्य भारत में बहुराष्ट्रीय कंपनियों के द्वारा लगातार भारतीय उद्योगों का आधिपत्य करना, भारत में लगातार बेरोजगारी का बढ़ना, ई मार्केटिंग के द्वारा भारतीय बाजारों का समाप्त होना जैसी समस्याओं के बारे में सरकार को सावचेत करना तथा जनता में जागरूकता लाने के लिए स्वदेशी जागरण मंच की स्थापना की गई थी।

मंच अपने स्थापना के समय से ही भारत में स्वदेशी उद्योगों के द्वारा भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए समय-समय पर अनेक प्रकार के जन जागरण अभियान चला रहा है। वर्तमान समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भी वर्तमान परिस्थितियों में भारत चीन सीमा विवाद को लेकर भारत को आत्मनिर्भर बनाने का आह्वान किया गया है।

कुमार ने बताया कि आत्मनिर्भरता का मतलब भारत में उद्योगों की भारतीयों द्वारा ही स्थापना हो, भारतीय ही उनमें काम करें और उन उद्योगों में उत्पादित की जाने वाली वस्तुएं भारतीय बाजारों में पहुंचे तथा उन बाजारों से भारतीय ग्राहक उन वस्तुओं का उपयोग करें तभी भारत प्रत्येक क्षेत्र में आत्मनिर्भर होगा।

इन्हीं उद्देश्यों को ध्यान में रखकर स्वदेशी जागरण मंच ने 26 मई से 5 जून तक स्वदेशी स्वालंबन अभियान पूरे विश्व में चलाया जिस का समापन 5 जुलाई को हुआ। समापन के पश्चात चित्तौड़ प्रांत जिनमें राज्य के 12 जिले शामिल हैं के सभी प्रमुख कार्यकर्ताओं की एक बैठक बुधवार शाम वैब के जरिए आयोजित की गई।

बैठक में प्रांत संयोजक, सह प्रान्त संयोजक एवं प्रांत टोली के अन्य सदस्य, प्रांत संगठक, प्रान्त अभियान समन्वयक, विभाग संयोजक, सह विभाग संयोजक, जिला एवम महानगर संयोजक व सह संयोजक, अभियान के जिला समन्वयक, महिला प्रमुख तथा प्रान्त एवं जिले की अभियान समितियों के सदस्य बैठक में उपस्थित थे।

बैठक में स्वदेशी स्वावलम्बन अभियान के राष्ट्रीय समन्वयक तथा उत्तर मध्य क्षेत्र के संगठक
सतीश कुमार का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। राजस्थान क्षेत्र संयोजक धर्मेंद्र दुबे और क्षेत्र अभियान समन्वयक सतीश ने भी बैठक को सम्बोधित किया। बैठक में अभियान को लेकर कार्यकर्ताओं के विचारों का आदान प्रदान किया गया।

चित्तौड़ प्रांत के संयोजक पुरुषोत्तम शर्मा, राजस्थान क्षेत्र संयोजक डॉ धर्मेंद्र दुबे व स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय संगठन और संघ के वरिष्ठ प्रचारक सतीश ने कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किा। इस अवसर पर स्वदेशी जागरण मंच के आगामी दिनों में आने वाले अभियान को लेकर रणनीति तय की गई।

मुख्य वक्ता के रूप में अपने संबोधन में बोलते हुए स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय समन्वयक सतीश ने कार्यकर्ताओं को बताया कि वर्तमान समय में कोविड-19 को लेकर देशभर में बेरोजगारी की समस्या एक विकराल रूप धारण कर रही है, ऐसे में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ता अपने क्षेत्र में एक अभियान चलाकर ऐसे प्रवासी श्रमिकों की पहचान करें और अपने ही क्षेत्र में विभिन्न उद्योगों में तथा व्यक्तिगत रूप से अपने विचारों के माध्यम से उन्हें प्रोत्साहित कर किसी ना किसी रोजगार के लिए उनकी व्यवस्था करें।

उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में हमें चीन द्वारा की गई सीमा पर घटना को भूलना नहीं चाहिए। अपने सैनिकों का सम्मान प्रत्येक स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ता अपने-अपने नगरों में करें साथ ही आम जनता के बीच में भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बहुराष्ट्रीय कंपनियों का विरोध ई मार्केटिंग के खतरों से अपने बाजार को बचाने के लिए जन जागरण अभियान चलाएं।

आने वाले समय में रक्षाबंधन उत्सव पर बहुराष्ट्रीय कंपनियों और चाइनीस राखियों का बहिष्कार करें और अपने देश को आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग करें, क्योंकि चीन सीमा पर सरकार सक्षम है लेकिन बाजारों के रूप में भारतीय जनता चाइना को आर्थिक रूप से कमजोर करके मुंहतोड़ जवाब दे सकती है। यह कार्य देश का एक आम नागरिक भारतीय सामान खरीद कर भारत का एक सच्चा सैनिक बन सकता है।

संगठन ने युवाओं को नई जिम्मेदारियां

विभाग संयोजक डॉ संत कुमार ने बताया कि इस अवसर पर स्वदेशी जागरण मंच के चित्तौड़ प्रांत संयोजक पुरुषोत्तम शर्मा ने स्वदेशी जागरण मंच के अभियानों को गति प्रदान करने के लिए अनेक युवाओं को अपने टीम में शामिल कर अनेक जिम्मेदारियां दी है। अजमेर में स्वदेशी जागरण मंच ने महानगर संयोजक के रूप में कुलदीप सिंह शेखावत, सह संयोजक राहुल शर्मा, जिला सह संयोजक हरिनारायण तथा महानगर संपर्क प्रमुख के रूप में अजय निगम को जिम्मेदारी सौंपी।

स्वदेशी जागरण मंच अजयमेरु के लिए चित्तौड़ प्रांत के संयोजक पुरुषोत्तम शर्मा ने बताया कि अजमेर विभाग संयोजक की जिम्मेदारी डॉक्टर संत कुमार के पास रहेगी वे अजमेर महानगर और जिले की समस्त तहसीलों का कार्य देखेंगे। अजमेर महानगर संयोजक के पद पर कुलदीप सिंह शेखावत अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे और उनके साथ सह संयोजक के रूप में राहुल शर्मा होंगे जो महानगर का कार्य देखेंगे। जिले की कार्यकारिणी में सह जिला संयोजक का कार्य हरिनारायण देखेंगे। महानगर संपर्क प्रमुख का दायित्व रेलवे से सेवानिवृत्त अजय निगम को सौंपा गया है।