अजमेर : स्वेदशी जागरण मंच ने पीएम मोदी को फिर चेताया

अजमेर। स्वदेशी जागरण मंच अजयमेरु महानगर के तत्वावधान में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में स्वदेशी जागरण मंच की ओर से आग्रह किया गया है कि भारत सरकार क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी संधि पर हस्ताक्षर ना करें।

स्वदेशी जागरण मंच महानगर के संयोजक डॉ संत कुमार ने बताया कि भारत सरकार अन्य 15 देशों के साथ क्षेत्रीय व्यापार आर्थिक साझेदारी के नाम से एक मुक्त व्यापार समझौता करने की ओर अग्रसर है, जिसमें 80 से 85% वस्तुओं पर आयात शुल्क शून्य करने का प्रावधान रखा जा रहा है।

यदि यह समझौता होता है तो इससे भारत के उद्योगों कृषि एवं डेयरी पर प्रतिकूल दूरगामी प्रभाव होंगे। इन क्षेत्रों में बिना शुल्क आयात के कारण उत्पादन पर बाहरी प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा और नवीन क्षमताओं की संभावनाएं समाप्त हो जाएगी। इतना ही बल्कि भारत सरकार के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के प्रयासों पर भी विराम लग जाएगा।

सस्ते चाइनीज माल की मार के कारण हमारे अधिकांश उद्योग या तो बंद हो चुके हैं या मंदी से त्रस्त हैं। ऐसे में भारत सरकार से यह समझौता होता है तो 80% चीनी उत्पादों पर भी शून्य आयात शुल्क की प्रतिबद्धता होगी। इस कारणल हमारे बचे खुचे उद्योग तबाह हो जाएंगे। हमारे कामगारों के लिए रोजगार पर भी भारी संकट पैदा होगा और मेक इन इंडिया केवल एक सपना बनकर रह जाएगा।

डॉ कुमार ने बताया कि अकेले डेयरी व्यवसाय ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 10 करोड लोगों को लाभकारी रोजगार के रूप में स्थापित है। लेकिन न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया से शून्य आयात शुल्क पर दूध और दुग्ध उत्पादों के आने से हमारे किसानों को मिलने वाले दूध की कीमत में भारी गिरावट होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में विशेषकर महिलाओं के रोजगार पर संकट की स्थिति बन जाएगी। किसानों की आमदनी दुगनी के बजाय आधी रह जाएगी। कम से कम 5 करोड लोगों को रोजगार छिन जाएगा।

वर्तमान में 150 मिलियन टन दूध के उत्पादन के साथ आत्मनिर्भर यह देश दूध के लिए दूसरे देशों पर निर्भर हो जाएगा। सस्ते कृषि उत्पादों के आयात के कारण भी भारतीय किसानों को भारी नुकसान होगा और कृषि क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

स्वदेशी जागरण मंच समय-समय पर सरकार की ऐसी नीतियों का विरोध करता रहा है जो देश के उद्योग धंधों को संरक्षण प्रदान नहीं करती हो। इस अवसर पर स्वदेशी जागरण मंच के विभाग संयोजक डॉ अरुण अरोड़ा, जागरण मंच के जिला संयोजक सुरेश उपाध्याय, विचार मंडल प्रमुख लक्ष्मी नारायण स्वर्णकार, नगर संयोजक राहुल शर्मा सहित 50 से अधिक कार्यकर्ता उपस्थित थे।