एंकर से विवाद के बाद लाइव कार्यक्रम से बाहर गए शोएब अख्तर

इस्लामाबाद। पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर एक बार फिर विवाद में हैं। दरअसल मामला उनके लाइव कार्यक्रम में एंकर से भिड़ने और बाद में बीच कार्यक्रम से उठ कर चले जाने का है। इस विवाद से संबंधित वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं।

पाकिस्तानी टीम की कल शारजाह के मैदान पर टी-20 विश्व कप मैच में न्यूजीलैंड पर जीत के बाद शोएब आज यहां पाकिस्तान के प्रमुख खेल टीवी चैनल पीटीवी स्पोर्ट्स पर एक डिबेट में शामिल हुए थे। इस बहस में उनके अलावा सर विवियन रिचर्ड्स, डेविड गॉवर, राशिद लतीफ, उमर गुल, राशिद लतीफ, आकिब जावेद और पाकिस्तान महिला टीम की कप्तान सना मीर भी मौजूद रही, जबकि शो की मेजबानी मशहूर एंकर डॉ. नौमान नियाज कर रहे थे।

इस दौरान नौमान ने शोएब को कुछ ऐसा कहा, जिस पर वह बुरा मान गए। बात बढ़ती देख नौमान ने शोएब को चलते कार्यक्रम से बाहर जाने के लिए कह दिया। इसके बाद शोएब ने तुरंत अपना माइक उतारा और पीटीवी चैनल के क्रिकेट विश्लेषक के पद से इस्तीफा देने की बात कहते हुए स्टूडियो से बाहर चले गए। हैरत की बात है कि इसके बाद नौमान ने उन्हें वापस बुलाने का प्रयास नहीं किया और कोई प्रतिक्रिया नहीं दिखाई और सामान्य रूप से कार्यक्रम को जारी रखा, हालांकि अन्य मेहमान हक्के-बक्के रह गए।

दरअसल शोएब अख्तर इस डिबेट में शाहीन शाह आफरीदी और हारिस रऊफ को लेकर कुछ बात कर रहे थे। इस बीच डॉ. नौमान ने उनसे कहा कि आप कुछ बेरुखी से बात कर रहे हैं, मैं ये नहीं कहना चाहता कि आप ओवर स्मार्ट बन रहे हैं, तो आप जा सकते हैं। इसके बाद शोएब ने कहा कि इस बात को यहीं खत्म करें, मैं आपके खिलाफ कुछ नहीं कह रहा था जो मुद्दा था उसपर बात कर रहा था।

इसके बाद शोएब अख्तर नहीं रुके और उन्होंने लाइव टीवी पर ही अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया। शोएब ने कहा कि मैं पीटीवी से इस्तीफा दे रहा हूं, जिस तरह से मेरे साथ नेशनल टीवी पर व्यवहार किया गया, मुझे नहीं लगता कि मुझे यहां रहना चाहिए।

इस पूरे विवाद के बाद शोएब ने टि्वटर पर एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि मैंने डॉ. नौमान से माफी मांगने को कहा था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। विदेशी खिलाड़ियों के सामने मेरे साथ इस तरह का व्यवहार किया गया, जो मेरे लिए काफी बुरा था। मैं एक नेशनल स्टार हूं, लेकिन जिस तरह से मुझे बाहर जाने के लिए कहा गया वो पूरी तरह से गलत था। विवियन रिचर्ड्स और डेविड गोवर जैसे दिग्गज क्रिकेटरों के सामने मेरे साथ ऐसा व्यवहार किया गया, जो बिल्कुल ठीक नहीं है।