तमिलनाडु: कुलपति नियुक्ति की आड़ में शैक्षणिक संस्थानों का भगवाकरण नहीं

Tamilnadu No saffronisation of educational institutions under the guise of Vice Chancellor
Tamilnadu No saffronisation of educational institutions under the guise of Vice Chancellor

चेन्नई। तमिलनाडु प्रदेश भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदर्याराजन ने आज कहा कि भाजपा राज्य में विश्वविद्यालयों का भगवाकरण नहीं कर रही है।

सौंदर्याराजन ने भाजपा के स्थापना दिवस के मौके पर यहां पार्टी कार्यालय में ध्वजारोहण के बाद कहा कि भाजपा अन्ना विश्वविद्यालय में कुलपति की नियुक्ति की आड़ में शैक्षणिक संस्थानों का भगवाकरण नहीं कर रही। उन्होंने स्पष्ट किया कि श्री एम के सुरप्पा की कुलपति के रूप में नियुक्ति प्रावीण्यता के आधार पर की गयी है और इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि कावेरी मुद्दे पर किसानों के विरोधी रहे राजनीतिक दल अब राजनीतिक कारणों से प्रदर्शन कर रहे हैं।
श्री सुरप्पा पूर्व में आईआईटी-रोपड़ में निदेशक रहे हैं। करीब दो वर्ष के अंतराल के बाद तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने गुरुवार को उन्हें तीन साल की अवधि के लिए अन्ना विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्त किया।

इस बीच द्रविड मुनेत्र कषगम के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने श्री सुरप्पा की नियुक्ति का विरोध किया है। श्री स्टालिन ने एक बयान में कहा कि राज्यपाल ने कुलपति के रूप में एक कन्नड़ का चयन किया है , जबकि तमिलनाडु में ही काफी संख्या में शिक्षाविद हैं। उन्होंने राज्यपाल से राज्य में शैक्षणिक संस्थानों का भगवाकरण न किये जाने की अपील भी की है।