जेएलएन अस्पताल के टीबी वार्ड में 7 घंटे गुल रही बिजली, जिम्मेदार कौन?

अजमेर। संभाग के सबसे बडे जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय के टीबी विभाग तथा वार्ड में गुरुवार को करीब सात घंटे बिजली गुल रही। इस दौरान भर्ती मरीजों को परेशानी का सामना करना पडा। गंभीर रोगियों की तो जान पर बन आई। अस्पताल प्रशासन की उदासीनता और विभागों के बीच परस्तर तालमेल के अभाव में भर्ती मरीज भगवान भरोसे रहे।

दोपहर करीब एक बजे अचानक टीबी वार्ड की बिजली गुल हो गई और सभी चिकित्सा उपकरण बंद हो गए। करीब आधा घंटे तक तो सब यह सोचते रहे कि बिजली देखरेख के लिए बंद की गई होगी। जब समय अधिक होने लगा तो टीबी एंड चेस्ट विभाग ने इस बाबत मे​डिकल कॉलेज की वर्कशॉप में पूछताछ की।

वर्कशॉप के कर्मचारियों ने मशक्कत के बाद पता लगाया कि अस्पताल के ही कार्डियोलॉजी विभाग के पास चल रहे निर्माण कार्य के करीब बिजली केबल ही टूटी पडी है। मौके पर आई जेसीबी मशीन ने खुदाई के दौरान केबल को ही तोड दिया था। मामला बूते से बाहर का होने का कहकर वर्कशॉप ने भी हाथ खींच लिए। आखिरकार पीडब्ल्यूडी को सूचित किया गया।

पीडब्ल्यूडी के बिजली विभाग से संबंधित ठेकेदार ने यह कहकर काम करने से मना कर दिया कि उसके पहले के बकाया बिल ही पास नहीं हुए हैं इसलिए वह काम नहीं करेगा। कोई रास्ता न निकलता देख अस्पताल प्रशासन ने मौके पर निर्माण कार्य करा रहे ठेकेदार को ही बिजली केबल तोडने के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए उससे खर्च वहन करने को कहा। दबाव में आया ठेकेदार जब खर्च उठाने को तैयार हुआ तब कहीं जाकर नई केबल डालने का काम शुरू हुआ।

इस तरह दिन बीतता गया और शाम होने को आई, अंधेरा घिरने को आ गया पर बिजली चालू नहीं हो पा रही थी। शाम करीब सात बजे केबल कनेक्शन जुडने से टीबी विभाग और वार्ड रोशन हुए और मरीजों ने राहत की सांस ली।

बिजली गुल का अस्पताल अधीक्षक को नहीं पता!

बिजली गुल होने के बारे में जब शाम चार बजे जब अस्पताल अधीक्षक से जानकारी चाही गई तो उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड लिया कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है। पता करके मामले को दिखवाते हैं। उधर, टीबी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ नीरज गुप्ता ने कहा कि बिजली जाने की सूचना मिलते ही उन्होंने तत्काल अपने स्तर पर मेडिकल कॉलेज की वर्कशॉप में सूचित कर दिया था साथ ही अस्पताल अधीक्षक को भी अवगत करा दिया। पीडब्ल्यूडी और ठेकेदार के बीच विवाद के बारे में उन्हें किसी बात की जानकारी नहीं है। शाम को बिजली आ गई थी।

VIDEO धमाके से थर्राया जेएलएन अस्पताल, ट्रांसफार्मर फटा, घंटों से बिजली गुल