अध्यापक ने छात्रा को काम पूरा करने के बहाने रोक कर किया दुष्कर्म

अध्यापक ने छात्रा को काम पूरा करने के बहाने रोक कर किया दुष्कर्म
अध्यापक ने छात्रा को काम पूरा करने के बहाने रोक कर किया दुष्कर्म

बरेली | उत्तर प्रदेश में बरेली के प्रेमनगर क्षेत्र में एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर के एक दसवीं की छात्रा के साथ दुष्कर्म किये जाने का मामला प्रकाश में आया है।

पुलिस अधीक्षक (शहर) अभिनन्दन सिंह ने गुरूवार को बताया कि गुलाबनगर में चेतराम फाटक निवासी दीपक सक्सेना एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर है। शाहबाद दीवान खाना में दीपक सरस्वती कॉमर्स कोचिंग इंस्टीट्यूट भी चलाता है। हाईस्कूल में पढ़ने वाली एक पंद्रह वर्षीय छात्रा ने अक्टूबर 2017 में इंग्लिश की कोचिंग के लिए प्रवेश लिया था। आरोप है कि 17 नवंबर 2017 की शाम दीपक ने उसे काम पूरा करके जाने के बहाने रोक लिया और उसके साथ दुष्कर्म किया। मुंह खोलने पर उसके माता पिता को मारने की धमकी दी। डर के कारण उसने घर पर कुछ नहीं बताया।

उन्होने बताया कि छात्रा के गर्भवती होने पर उसकी तबीयत बिगड़ गई। परिजन उसे डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे तो मामला खुल गया। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में आरोपी दीपक का कहना है कि छात्रा उसके यहां पढ़ने आती थी। उसका छात्रा के साथ कोई संबंध नहीं थे। दीपक की शादी को अभी नौ महीने ही हुए हैं।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि छात्रा के बयान के आधार पर प्रेमनगर थाने में कोचिंग टीचर खिलाफ पाक्सो समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। छात्रा की मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार वह सात महीने की गर्भवती है। आराेपी अध्यापक को आज को जेल भेज दिया गया है।