टीआरएस विधायक इटेला राजेंद्र का विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा मंजूर

हैदराबाद। तेलंगाना के विधानसभा अध्यक्ष पी श्रीनिवास रेड्डी ने तेलंगाना राष्ट्र समिति विधायक एवं तेलंगाना के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री इटेला राजेंद्र की ओर से शनिवार को दिए विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफे को मंजूर कर लिया।

इटेला के विधायक पद से इस्तीफा देने के कारण राज्य में एक और उप चुनाव का रास्ता खोल दिया है। साथ ही इटेला के 14 जून को भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने का मार्ग भी प्रशस्त हो गया है।

राज्य विधानसभा के सचिव डा. वी नरसिम्हा चार्युलु ने एक अधिसूचना में कहा कि विधानसभा के हुजुराबाद विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचित सदस्य इटाला ने 12 जून के प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है। इसके कारण हुजुराबाद निर्वाचन क्षेत्र में रिक्ति आ गई है। इस बात की सूचना चुनाव आयोग एवं राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी को दी गई है।

इटेला ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ विधानसभा के समीप गन पार्क में तेलंगाना के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद विधानसभा सचिव डॉ वी नरसिम्हा चार्युलु को अपना त्याग पत्र सौंपा। इलेटा ने अध्यक्ष पोचाराम श्रीनिवास रेड्डी को संबोधित अपने त्यागपत्र में कहा कि मैं 12 जून 2021 से सदन में अपनी सदस्यता से इस्तीफा देता हूं।

उन्होंने पहले टीआरएस की प्राथमिक सदस्यता और हुजूराबाद निर्वाचन क्षेत्र से विधायक पद से अपने इस्तीफे की घोषणा की थी। उन्होंने आज आधिकारिक रूप से विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और तेलंगाना के प्रदेश प्रभारी तरुण चुग ने शुक्रवार को इटेला से मुलाकात के बाद उनके भाजपा में शामिल होने के संकेत दिए थे। वह आज शाम विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना होंगे और 14 जून को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में पार्टी में शामिल होंगे।

उल्लखेनीय है कि मेडक जिले के अचंपेट और हैमपेट के ग्रामीणों द्वारा मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव पर भूमि अतिक्रमण के आरोपों के बाद दो मई को इलेटा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया था।