टेक्सास बंधक संकट : मार गिराया पाकिस्तानी आरोपी

टेक्सास। अमरीकी सुरक्षा बलों ने टेक्सास के एक यहूदी सभागार में चार लोगों को बंधक बनाने वाले एक संदिग्ध व्यक्ति को मार गिराया है जिसने पाकिस्तानी न्यूरोसाइंटिस्ट की रिहाई की मांग की थी।

मारे गए अपहरणकर्ता ने शनिवार को अफगानिस्तान में अमरीकी सैनिकों को मारने की साजिश रचने वाली एक पाकिस्तानी न्यूरोसाइंटिस्ट की रिहाई की मांग की थी। बंधक बनाने वाले पाकिस्तानी शख्स के बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है, लेकिन सुरक्षा बलों द्वारा उसे मार गिराने से पहले उसने अपनी मांगें करते हुए सुना गया था।
सीएनएन के अनुसार यह घटना उस समय हुई जब सभागार फेसबुक पर सुबह सब्त की लाइवस्ट्रीमिंग कर रहा था।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार लाइव स्ट्रीमिंग के दौरान एक व्यक्ति का ऑडियो भी कैप्चर किया गया था, जिसमें उसे कहते सुना गया कि तुम मेरी बहन को फोन पर बुलाओ और मैं मरने वाला हूं। उसने कहा कि अमरीका में कुछ गड़बड़ है। बाद में इस फीड हटा लिया गया।

सीएनएन ने कानून प्रवर्तन अधिकारियों के हवाले से कहा कि जांचकर्ताओं का मानना ​​है कि बंधक बनाने वाले का मकसद उसकी बहन आफिया सिद्दीकी को अमरीकी संघीय जेल से रिहा करवाना था। महिला के कथित तौर पर अल-कायदा आतंकवादी समूह से संबंध थे। वह अफगानिस्तान में अमरीकी अधिकारियों को मारने की कोशिश के लिए 86 साल की सजा काट रही है।

वहीं, सिद्दीकी का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील ने कहा है कि सभागार में लोगों को बंधक बनाने में आफिया की कोई भागीदारी नहीं है और न ही बंधक बनाने वाला उसका भाई है। सीएनएन ने कोलीविल पुलिस प्रमुख माइकल मिलर के हवाले से कहा कि स्थानीय, राज्य और संघीय स्वाट टीमों सहित एफबीआई की बंधक बचाव टीम की मदद से लोगों को बचाया गया।

घटना के बाद राष्ट्रपति जो बिडेन ने बंधकों को बचाने के लिए राज्य, स्थानीय और संघीय कानून प्रवर्तन एजेंसियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में हम बंधक बनाने वाले की मंशा के बारे में और जानेंगे। राष्ट्रपति ने कहा कि जो भी नफरत फैलाने वाले हैं, मैं उन सभी को स्पष्ट कर दूं कि हम इस देश में यहूदी-विरोधी और चरमपंथ के उदय के खिलाफ खड़ा रहेंगे।