आल इण्डिया हज सेवा समिति ने हज यात्रा पर जीएसटी नहीं हटाये जाने पर जतायी नाराजगी

आल इण्डिया हज सेवा समिति ने हज यात्रा पर जीएसटी नहीं हटाये जाने पर जतायी नाराजगीआल इण्डिया हज सेवा समिति ने हज यात्रा पर जीएसटी नहीं हटाये जाने पर जतायी नाराजगी
आल इण्डिया हज सेवा समिति ने हज यात्रा पर जीएसटी नहीं हटाये जाने पर जतायी नाराजगी

आज़मगढ़ । आल इण्डिया हज सेवा समिति ने हज यात्रा पर जीएसटी न हटाये जाने पर नाराजगी जताते हुए हज यात्रियों के हित में इसे शीघ्र हटाये जाने की मांग की है।

समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय हज कमेटी समिति के पूर्व सदस्य हाफिज नौशाद अहमद आज़मी ने सोमवार को यहां जारी एक बयान में ये बातें कही। उन्होंने धार्मिक व्यवस्था से जुड़े इस मामले पर सवाल उठाते हुए कहा कि भंडारे पर से जीएसटी समाप्त हो सकती है तो हज यात्रा से क्यों नहीं। उन्होंने हज यात्रियों के हित में हज यात्रा से 18 फीसदी जीएसटी तत्काल हटाने की मांग की है।

आज़मी ने कहा कि हज यात्रा पर पहले ही सब्सिडी खत्म होने से हज किराये का बोझ बढ़ा हुआ है ऐसे में जीएसटी 18 फीसदी लागू होना नाइंसाफी है। इस मामले में समिति द्वारा पिछले तीन माह से लगातार जनांदोलन कर सांसदों, केंद्रीय मंत्रियों, प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को पत्र लिखा गया है।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी गलत दावा कर रहे हैं कि हज यात्रा सस्ती हो गयी है। श्री आज़मी ने कहा कि हज यात्रा 20 फीसदी से लेकर 40 फीसदी महंगी हुयी है जो केंद्र की एनडीए सरकार की देन है।