घड़ी केवल वक़्त ही नहीं वास्तु दोष भी बताती है

know your watch direction according to vastu
The clock not only tells time but also Vastu fault

लाख कोशिशों के बाद भी व्यक्ति को अपने जीवन में सुख-शांति और सफलता प्राप्त नहीं होती तो अक्सर लोग इसे अपनी बुरी किस्मत मानकर बैठ जाते हैं। लेकिन वास्तव में यह आपके घर के वास्तुदोष के कारण भी हो सकता है। ऐसे में अगर आप इस वास्तुदोष को ठीक करना चाहते हैं तो अपने घर की दीवार पर टंगी हुई घड़ी पर फोकस करें। घर में कभी भी बंद पड़ी घड़ी नहीं रखनी चाहिए और घर में घड़ी को को हमेशा सही दिशा में रखना चाहिए। गलत दिशा में घड़ी लगाने का बहुत बुरा दुस्प्रभाव पड़ता है और घर की सुख समृद्धि नष्ट हो जाता है। इतना ही नहीं गलत दिशा में लगी घड़ी आपके लिए अकाल मृत्यु का कारण भी बन सकती है।

घर में लगाई जाने वाली घड़ी की शेप पर ध्यान देना बेहद जरूरी है। आजकल कई आकार व डिजाइन में घड़ियां मार्केट में मिल जाती हैं, लेकिन वास्तु के हिसाब से, घर की पश्चिम दिशा में ओवल शेप यानि अंडकार आकार की घड़ी वास्तु के अनुसार सबसे बढ़िया मानी जाती है। घर की इस दिशा में टंगी घड़ी घर के सदस्यों के लिए तरक्की के नए रास्ते खोलती है। इतना ही नहीं, इससे घर का वास्तुदोष भी खुद ब खुद ठीक हो जाता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के दक्षिण दिशा की दिवार में कभी घड़ी ना लगाए क्योंकि दक्षिण में काल का वास होता है। घर में हमेशा घड़ी पूर्व की दिशा वाली दिवार पर लगाए इससे तरक्की के रास्ते खुलते है और कोई हानि भी नहीं पहुँचती है।

अगर आप अपने काम में तरक्की करना चाहते हैं तो घड़ी के कलर पर भी फोकस करें। ऐसे लोगों को घर की नार्थ यानि उत्तर दिशा में घड़ी लगानी चाहिए। साथ ही उनकी घड़ी का फ्रेम नीले रंग का होना चाहिए।

बच्चों के कमरे में मटैलिक फ्रेम वाली घड़ी लगाना बेहतर रहेगा। इससे आपके बच्चों की सकारात्मक शक्ति बढ़ेगी।

वही इसके अलावा घर के किसी भी दरवाजे पर कभी भी घड़ी नहीं लगानी चाहिए। घर के मुख्य द्वार के ऊपर वाली दीवार पर भी घड़ी ना लगाएं। इससे परिवार में क्लेश बढ़ता हैं।