ड्रूम की ओबीवी बना देश का तीसरा बड़ा सर्च इंजन

The nation's third largest search engines of Dumm is made
The nation’s third largest search engines of Dumm is made

नयी दिल्ली । ऑनलाइन ऑटोमोबाइल खरीद बेच मार्केटप्लेस ड्रूम की प्राइसिंग इंजन ऑरेंज बुक वैल्यू (ओबीवी) के यूजरों की संख्या 20 करोड़ के पार पहुंच गयी है और हर महीने करीब 1.5 करोड़ लोगों के इसका उपयोग करने से यह देश का तीसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन भी बन गया है।

कंपनी ने गुरूवार को यहां जारी बयान में यह जानकारी देते हुये कहा कि बेंचमार्क प्राइसिंग इंजन किसी भी पुराने वाहन के उचित बाजार मूल्य का आंकलन करता है। कंपनी ने वर्ष 2016 में इसे शुरू किया था और 28 महीने के भीतर इसका यूजर बेस 20 करोड़ के आंकड़े को पार कर चुका है। पिछले आठ महीने में 10 करोड़ उपभोक्ताओं ने इसका उपयोग किया है।

उसने कहा कि पुराने वाहनों के मूल्य को निर्धारित करने की प्रक्रिया कठिन रही है क्योंकि यह अब तक सांख्यिकीय या वैज्ञानिक परिप्रेक्ष्य के बिना पूरी तरह से व्यक्तिगत मूल्यांकन मानकों पर निर्भर था। हालांकि इस ऑनलाइन टूल के लॉन्च के साथ वाहन खरीदने और बेचने वालों के लिए मूल्य निर्धारण पर निर्णायक सर्वसम्मति के साथ पहुंचना आसान हो गया है।

ड्रूम की ओबीवी पर 10 सेकंड में किसी भी पुराने वाहन का उचित बाजार मूल्य हासिल किया जा सकता है। यही कारण है कि हर महीने 1.5 करोड़ यूजर ओबीवी से जुड़ रहे हैं। ओबीवी 100 से ज्यादा कंपनियों के 24,000 से ज्यादा उत्पादों, करीब 1,000 मॉडलों और 4,000 संस्करणों को कवर करता है, जिनका उत्पादन पिछले 15 से 16 साल में हुआ है।