ईरान की जनता अमेरिकी दबाव के समक्ष नहीं झुकेगी-हसन रूहानी

 ईरान की जनता अमेरिकी दबाव के समक्ष नहीं झुकेगी-हसन रूहानी
ईरान की जनता अमेरिकी दबाव के समक्ष नहीं झुकेगी-हसन रूहानी

बेरूत । ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि ईरान की जनता अमेरिकी दबाव के समक्ष नहीं झुकेगी। ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका के अलग होने के बाद ईरान उसके दोबारा से लगाये गये प्रतिबंधों का सामना कर रहा है।

ईरान के सरकारी मीडिया के अनुसार रूहानी ने बुधवार को कहा, “ईरान की जनता कभी भी अमेरिकी सरकार के षडयंत्र और दबाव के समक्ष आत्मसमर्पण नहीं करेंगे।”

रूहानी पिछले वर्ष फिर ही इस वायदे पर राष्ट्रपति निर्वाचित हुए थे कि विश्व के प्रमुख राष्ट्रों के साथ हुए ईरान परमाणु समझौते के दम पर देश की अर्थव्यवस्था बेहतर होगी। र्ईरान परमाणु समझौते के बाद अमेरिका ने ईरान पर लगायी गयी कुछ पाबंधियों को हटा दिया था।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के र्ईरान परमाणु समझौते से अलग होने के निर्णय के बाद समझौते का अवमूल्यन हुआ है। समझौते के अन्य हस्ताक्षरकर्ता देश रूस, चीन, ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी इस समझौते को बचाने के लिए कड़ा संघर्ष कर रहे हैं।