रिवर्स रेपो दर में कटौती से सेंसेक्स 986 अंक और निफ्टी 279 अंक उछला

The reverse repo rate cut saw the Sensex rise by 986 points and the Nifty 279 points
The reverse repo rate cut saw the Sensex rise by 986 points and the Nifty 279 points

मुंबई। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाये जाने से आर्थिक गतिविधियों में आयी सुस्ती को दूर कर तीव्र विकास के पथ पर अर्थव्यवस्था को ले जाने के उद्देश्य से रिजर्व बैंक द्वारा रिवर्स रेपो दर में एक चौथाई फीसदी की कटौती किये जाने से बैंकिंग समूह में हुई लिवाली के बल पर शुक्रवार को शेयर बाजार में तीन फीसदी से अधिक की तेजी रही।

बीएसई का सेंसेक्स 986.11 अंक उछलकर 31588.72 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 273.95 अंक चमककर 9266.75 अंक पर रहा। इस दौरान छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली का रुख बना रहा जिससे बीएसई का मिडकैप 2.47 प्रतिशत बढ़कर 11824.07 अंक पर और स्मॉलकैप 2.12 प्रतिशत चमककर 10800.91 अंक पर रहा।

वैश्विक स्तर पर शेयर बाजार में तेजी रही। इससे भी घरेलू शेयर बाजार को बल मिला और इसमें तेजी आयी। बीएसई का अधिकांश समूह बढ़त में रहा। एफएमसीजी 0.99 प्रतिशत और हेल्थकेयर 0.69 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर शेष सभी समूह बढ़त में रहे। इसमें बैंकिंग में 6.83 प्रतिशत, वित्त 5.44 प्रतिशत, ऑटो 4.67 प्रतिशत, रियल्टी 3.70 प्रतिशत और एनर्जी 3.64 प्रतिशत की तेजी रही।

वैश्विक स्तर पर यूरोपीय और एशियाई बाजार हरे निशान में रहे जबकि अमेरिकी बाजार मिश्रित खुले। ब्रिटेन का एफटीएसई 3.39 प्रतिशत, जर्मनी का डैक्स 4.19 प्रतिशत, जापान का निक्केई 3.15 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 3.09 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 1.56 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.66 प्रतिशत की बढ़त में रहा।

बीएसई का सेेंसेक्स 1054 अंकों की तेजी लेकर 31656.68 अंक पर खुला। शुरूआती कारोबार में लिवाली के बल पर यह 31718.73 अंक के उच्चतम स्तर तक चढ़ा लेकिन इसी दौरान रिजर्व बैंक के आर्थिक उपायों की घोषणाआें के बाद बिकवाली शुरू हो गई जिससे यह 30960.94 अंक के निचले स्तर तक फिसला। इसके बाद कारोबार के अंतिम चरण में फिर से लिवाली शुरू हो गयी जिससे सेंसेक्स कारोबार के अंत में पिछले दिवस के 30602.61 अंक की तुलना में 986.11 अंक अर्थात 3.22 प्रतिशत बढ़कर 31588.72 अंक पर रहा।

एनएसई का निफ्टी 330 अंकाें की तेजी लेकर 9323.45 अंक पर खुला और लिवाली के बल पर यह 9324 अंक के उच्चतम स्तर तक पहुंच गया। इसी दौरान बिकवाली होने से यह 9091.35 अंक के निचले स्तर तक फिसला। अंत में यह पिछले सत्र के 8992.80 अंक की तुलना में 278.95 अंक अर्थात 3.05 प्रतिशत बढ़कर 9266.75 अंक पर रहा। निफ्टी में शामिल कंपनियों में से 38 हरे निशान में और 12 लाल निशान में रही।

बीएसई में अधिकांश कंपनियों में तेजी रही। बढ़त में रहने वालों में एक्सिस बैंक 13.45 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 9.89 प्रतिशत, इंड्सइंड बैंक 9.13 प्रतिशत, मारूति 7.36 प्रतिशत, टीसीएस 5.32 प्रतिशत, कोटक बैंक 4.96 प्रतिशत, रिलायंस 4.82 प्रतिशत, बजाज फाइनेंस 3.89 प्रतिशत, एचडीएफसी बैंक 3.33 प्रतिशत, एचडीएफसी 3.25 प्रतिशत, हीरो मोटोकार्प 3.03 प्रतिशत, पावरग्रिड 2.63 प्रतिशत, स्टेट बैंक 2.49 प्रतिशत, एल एंड टी 2.32 प्रतिशत, महिंद्रा 1.78 प्रतिशत, बजाज ऑटो 1.71 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.63 प्रतिशत, एशियन पेंट्स 0.97 प्रतिशत, ओएनजीसी 0.86 प्रतिशत, आईटीसी 0.86 प्रतिशत, इंफोसिस 0.82 प्रतिशत , एनटीपीसी 0.68 प्रतिशत और एयरटेल 0.36 प्रतिशत शामिल है।

गिरावट में रहने वालों में नेस्ले इंडिया 3.15 प्रतिशत, हिन्दुस्तान यूनिलीवर 2.14 प्रतिशत, टेक महिंद्रा 1.69 प्रतिशत, सन फार्मा 1.53 प्रतिशत,टाईटन 1.18 प्रतिशत, एचसीएलटेक 0.94 प्रतिशत और अल्ट्राटेक सीमेंट 0.41 प्रतिशत शामिल है।