देश के सेवा क्षेत्र की गतिविधियों की रफ़्तार मई में कम हुयी

देश के सेवा क्षेत्र की गतिविधियों की रफ़्तार मई में कम हुयी
देश के सेवा क्षेत्र की गतिविधियों की रफ़्तार मई में कम हुयी

मुंबई | देश के सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में तीन महीने में पहली बार मई में गिरावट देखी गयी और इसका निक्केई सेवा कारोबार गतिविधि सूचकांक घटकर 50 से नीचे आ गया।

निक्केई द्वारा आज जारी रिपोर्ट के अनुसार, देश के सेवा क्षेत्र का सूचकांक अप्रैल के 51.4 से घटकर 49.6 पर आ गया। निक्केई माह दर माह आधार पर आँकड़े जारी करता है। सूचकांक का 50 से ऊपर रहना गतिविधियों में तेजी और इससे नीचे रहना गिरावट दर्शाता है। इसका 50 पर रहना स्थिरता का द्योतक है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि मई में नये ऑर्डरों में रुकावट की स्थिति बनी रही। वहीं, इस क्षेत्र में नयी नौकरियों की रफ्तार पिछले साल दिसंबर की तुलना में सबसे धीमी रही। इस दौरान लागत मुद्रास्फीति में भी तेजी देखी गयी। हालाँकि, प्रतिस्पर्द्धा के मद्देनजर कंपनियों ने बढ़ती लागत का बोझ पूरी तरह ग्राहकों पर नहीं डाला।

इससे पहले 01 जून को विनिर्माण क्षेत्र की रिपोर्ट जारी की गयी थी जिसका सूचकांक अप्रैल के 51.6 से घटकर 51.2 रह गया था। इस प्रकार सेवा और विनिर्माण क्षेत्र का सम्मिलित सूचकांक 51.9 से घटकर 50.4 रह गया।