पुलवामा में शहीद सैनिक के दोनों भाई सेना में शामिल, कहा- आतंकियों से लेंगे बदला

martyr aurangzeb brothers Join Indian army, says- take the revenge from terrorists
The two brothers of the martyr soldier in Pulwama joined the army, said – will take revenge from the terrorists

भारतीय सेना | जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बीते साल शहीद हुए औरंगजेब के दोनों भाई सेना में शामिल हुए। औरंगजेब ईद मनाने के लिए अपने गांव जा रहे थे। आतंकियों ने उनकी हत्या इसलिए कर दी थी ताकि कश्मीर के युवा डरकर सेना में शामिल ना हों। लेकिन अब औरंगजेब के भाई मोहम्मब शाबिर और मोहम्मद तारिक सेना में शामिल हो गए हैं और उन्होंने आतंकियों से बदला लेने की बात कही है।
सोमवार को टेरिटोरियल आर्मी की एनरोलमेंट परेड में मोहम्मद तारिक और मोहम्मद शब्बीर के माता-पिता भी मौजूद थे। गर्व के इन क्षणों में शहीद के पिता मोहम्मद हनीफ ने कहा कि उन्होंने अपने एक बेटे की शहादत का बदला लेने के लिए दो बेटों को सेना में भेजा है।
सीमावर्ती जिला पुंछ के तहसील के सलोनी निवासी सेना के शहीद जवान औरंगजेब के दोनों भाई मार्च माह में पुंछ के सुरनकोट में आयोजित भर्ती रैली में शामिल हुए थे। इसमें 11000 से अधिक उम्मीदवार थे लेकिन केवल 101 का चयन किया गया। इन्हीं में यह दो नौजवान भी शामिल हैं।