फिल्मी प्रेमकहानी के बाद मारपीट का शिकार बनी युवती को पुलिस ने सौंपा परिजन को

फिल्मी प्रेमकहानी के बाद पुलिस ने युवती को सौंपा परिजन को
फिल्मी प्रेमकहानी के बाद पुलिस ने युवती को सौंपा परिजन को

भिंड । मध्यप्रदेश के भिंड जिले में पुलिस ने फिल्मी अंदाज में प्रेमकहानी और शादी के बाद युवक के हाथों मारपीट का शिकार बन रही उत्तरप्रदेश की एक युवती को उसके परिजन को सौंप दिया है।

डायल 100 पुलिस सूत्रों ने उत्तरप्रदेश के हरदोई निवासी इस युवती के हवाले से बताया कि अप्रैल में उसके मोबाइल पर एक युवक का रांग नंबर आया। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल पर बातचीत होने लगी। युवक ने अपना नाम मुरैना निवासी उपेन्द्र सिंह तोमर बताया। कुछ दिन की बातचीत के बाद 14 जून को युवती उपेन्द्र के साथ भाग आई और दोनों ने भिंड में कोर्ट मैरिज कर ली।

इसके बाद उपेन्द्र ने उसे भिंड में अपने रिश्तेदारों के यहां रखा। कुछ दिन यहां रहने के बाद दोनों ग्वालियर और उसके बाद गुजरात के गांधीनगर चले गए। करीब 10 दिन पहले उपेन्द्र उसे लेकर ग्वालियर आया और एक किराए के कमरे में रख कर उसके साथ मारपीट करनी शुरु कर दी। युवती ने उपेन्द्र पर लगातार शारीरिक शोषण का भी आरोप लगाया।

युवती के मुताबिक उपेन्द्र दो दिन पहले किसी काम से भोपाल गया। इसका फायदा उठाते हुए उसने शनिवार को हरदोई में अपनी मां से बात की और उनसे वापस लौटने के बारे में पूछा। इसी क्रम में युवती कल इटावा के रास्ते हरदोई जा रही थी। तभी अचानक बस में बैठने के दौरान उपेंद्र के रिश्तेदारों ने उसे देख लिया। बस के खराब होने के कारण बस वहीं रुक गई और उपेंद्र के रिश्तेदार युवती को बस में से उतारकर वापस ले जाने लगे।

लहार रोड से रिश्तेदार युवती को जबर्दस्ती अपने घर ले जा रहे थे, तभी राहगीरों ने बीच-बचाव कर डायल 100 को सूचना दे दी। पुलिस के आते ही आरोपी युवक के रिश्तेदार भाग गए। पुलिस ने इटावा में मौजूद युवती के परिजन को सूचना दी। परिजन के आते ही पुलिस ने युवती को उन्हें सौंप दिया।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक युवती अपनी मर्जी से युवक के साथ गई थी। चूंकि परिजन ने हरदोई में पहले ही मामला दर्ज करा दिया था, इसलिए पूरी कार्रवाई वहां की पुलिस करेगी।