आठ जून से और मिल रही है छूट, रहना संभल कर

There is other exemption in lockdown from June 8 to be careful
There is other exemption in lockdown from June 8 to be careful

सबगुरु न्यूज। आठ जून से पहले फेज के तहत और अधिक छूट मिलने जा रही है ऐसे में आपको अब बहुत सावधान रहना पड़ेगा। सही मायने में आप 3 दिन बाद देश अनलॉक हो जाएगा। केवल कंटेनमेंट और बफर जोन ही में पाबंदियां रहेंगी। यानी अब पहले की अपेक्षा ज्यादा छूट हो गई है। सड़कों पर पहले जैसी वाहनों की आवाजाही बढ़ गई है।‌ बाजारों में भी भीड़ जबरदस्त दिखाई देने लगी।‌ दुकान, ऑफिस आदि पहले जैसे तेजी साथ खुलते जा रहे हैं। अब आपको भी घर से निकलते बहुत ही सावधान रहना होगा।

केंद्र सरकार ने कोरोना लॉकडाउन पर लोगों को बड़ी राहत दी है। गृह मंत्रालय नई गाइडलाइन जारी की हैं। अब राज्यों के बीच और राज्य के अंदर लोगों और सामान की आवाजाही पर कोई पाबंदी नहीं होगी। इसके लिए अलग से कोई अनुमति या परमिट लेने की जरूरत नहीं होगी। यानी सही मायने में अब भारत बहुत रफ्तार से दौड़ रहा है उसके साथ ही कोरोना की भी रफ्तार हर दिन तेजी साथ बढ़ती जा रही है। अब लगभग हर दिन 10 हजार मामले रोज आ रहे हैं, यह भारत के लिए जबरदस्त चिंता का विषय बना हुआ है। देश अब बहुत रफ्तार से भाग रहा है उसके साथ ही कोरोना ने भी अपनी रफ्तार तेज कर दी है। पिछले कुछ दिनों से अब लगभग हर दिन देश में 10 हजार मामले आ रहे हैं। देश में कोरोना मरीजों की संख्या 2 लाख 37 हजार 395 हो गई है।

बाहर आने जाने में जोखिम अब और अधिक बढ़ गया है

भारत में भी गतिविधियां शुरू होने, लोगों की आवाजाही फिर से आरंभ होने के बाद महामारी के प्रकोप दिखाने का जोखिम और तेज हो गया है। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि मजदूरों का बड़े स्तर पर पलायन, शहरों में घनी आबादी भी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि लॉकडाउन खोलने के बाद केंद्र सरकार ने कोरोना से लड़ाई के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं।

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी शनिवार कोरोना के आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 9887 केस सामने आए हैं। 8 जून से होटल, रेस्टोरेंट और धार्मिक स्थल आम लोगों के लिए खुल जाएंगे। बता दें कि गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट जोन को छोड़कर देश के बाकी हिस्सों में धर्मस्थलों, मॉल, रेस्टोरेंट और होटल खोलने की अनुमति दी थी।

मॉल-होटल और रेस्टोरेंट भी खोले जाएंगे

8 जून से होटल, रेस्टोरेंट और धार्मिक स्थल आम लोगों के लिए खुल जाएंगे। लेकिन यहां जाने के लिए आपको नियमों का पालन करना होगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने गाइडलाइन जारी कर दी है। बता दें कि गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट जोन को छोड़कर देश के बाकी हिस्सों में धर्मस्थलों, मॉल, रेस्टोरेंट और होटल खोलने की अनुमति दी है।होटल और रेस्टोरेंट में जाने से पहले आपको यह नियम अपनाने होंगे। प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर और थर्मल स्क्रीनिंग होना जरूरी होगा। सिर्फ बिना लक्षण वाले ही स्टाफ और गेस्ट को होटल में आने की इजाजत होगी। इस दौरान सभी को फेस मास्क लगाना जरूरी होगा। स्टाफ और गेस्ट जब तक होटल में रहेंगे तब तक उन्हें मास्क लगाना अनिवार्य होगा। रेस्टोरेंट में लोगों के बैठने की ऐसे व्यवस्था होनी चाहिए जिससे कि सोशल डिस्टेनसिंग का पालन हो सके।

धार्मिक स्थल और मंदिरों को खोले जाने की तैयारी हुई शुरू

8 जून से देश के धार्मिक स्थलों और मंदिरों को खोलने की इजाजत दे दी है। लेकिन अभी कयास लगाए जा रहे हैं कि देश के सभी धार्मिक स्थल मंदिर हाल फिलहाल नहीं खोले जाएंगे। देश की राजधानी दिल्ली में अधिकांश मंदिरों के कपाट खुलने पर अभी भी संशय बना हुआ है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने धार्मिक स्थलों के लिए एसओपी जारी किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी बयान में कहा गया कि धार्मिक स्थलों में काफी संख्या में लोग जमा होते हैं।

ऐसे में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और अन्य जरूरी मापदंड अपना बेहद जरूरी है। हालांकि अभी कंटेनमेंट जोन में धार्मिक स्थल नहीं खोले जाएंगे। फिलहाल कंटेनमेंट जोन से बाहर के धार्मिक स्थलों को ही खोलने की इजाजत होगी। मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारों, चर्च परिसर को सैनिटाइज किया जा रहा है।

मंदिरों में खास बात यह है कि शरीरिक दूरी बनाकर श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जाएगा, लेकिन प्रतिमा को छूने और प्रसाद, दान देने की मनाही रहेगी। वहीं, राज्य सरकार आठ जून के बाद चारधाम यात्रा को सीमित, नियंत्रित और सुरक्षित रूप से शुरू करने पर मंथन कर रही हैैै। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है कि परिस्थितियों के अनुरूप आठ जून के बाद राज्य में चारधाम यात्रा को लेकर फैसला लिया जाएगा। दूसरी ओर उत्तराखंड के चार धाम यात्रा खोले जाने पर विरोध भी शुरू हो गया है।

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार