भारत की ये ऐतिहासिक धरोहरें , आज पाकिस्तान में धूल फांकने को है मजबूर

These historic heritage of India, today, is forced to dust in Pakistan.
These historic heritage of India, today, is forced to dust in Pakistan.


सबगुरु न्यूज़
| भारत में एक से बढ़कर एक खूबसूरत और ऐतिहासिक इमारतें और किले है जो भारत के गौरवशाली इतिहास की सूचक है।  आज हम आपको कुछ ऐसे किलों के बारे में बता रहे है जो बंटवारे के बाद पाकिस्तान के हिस्से में आये और आज धुल फांकने को मजबूर है। जो इमारतें कभी शान हुआ करती थी आज जर्जर होकर अपना वजूद तलाश रही है। अगर यही इमारतें भारत में होती तो सोचिये क्या बात होती।

Video:HOT NEWS UPDATE : लड़की के भाई ने लड़के को घर में घुसकर मारा || जानने के लिए देखिये ये वीडियो

दरावड़ का क़िला, बहावलपुर: बहावलपुर के डेरा नवाब साहिब से करीब 48 कि.मी दूरी पर दरावड़ नाम का मशहूर किला बसा है। यह किला चोलिस्तान रेगिस्तान में मिलो दूरी से भी दिखाई पड़ता है। इस किले की दीवारे 30 मीटर ऊंची है। इस किले का निर्माण जैसलमेर के राजपूत राय जज्जा भाटी ने करवाया था। कब्जे से पहले यह रॉयल फैमिली का महल हुआ करता था।

Video:HOT NEWS UPDATE : कोहली ने झगड़ा क्यों किया धोनी के साथ || जानने के लिए देखिये ये वीडियो

अल्तीत फोर्ट, गिलगित-बल्टिस्तान: करीब 900 साल पुराना यह अल्तीत फोर्ट पाकिस्तान के गिलगित-बल्टिस्तान की हुंजा वैली के करीमाबाद में बसा है। इसे सबसे पुराना मॉन्युमेंट भी कहा जाता है।

रोहतास फोर्ट, दीना टाउन, झेलम: इस किले का निर्माण राजा शेह शाह सूरी ने 1547 के आसापास ही करवाया था। यह झेलम शहर के दीना टाउन के काफी पास मौजूद है। इस किले की सीढीदार दीवार और लगभग 12 गेट्स लगे है।

VIDEO राशिफल 2018 पूरे वर्ष का राशिफल एक साथ || ग्रह नक्षत्रों का बारह राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए, और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE और वीडियो के लिए विजिट करे हमारा चैनल और सब्सक्राइब भी करे सबगुरु न्यूज़ वीडियो